qualcomm-to-help-indian-tech-startup-companies-in-global-innovation
qualcomm-to-help-indian-tech-startup-companies-in-global-innovation
देश

क्वालकॉम भारतीय टेक स्टार्टअप कंपनियों को ग्लोबल इनोवेशन में मदद करेगा

news

बेंगलुरु, 12 जुलाई (आईएएनएस)। चिप बनाने वाली कंपनी क्वालकॉम भारतीय टेक स्टार्टअप कंपनियों को ग्लोबल इनोवेशन के लिए मदद करेगा। क्वालकॉम ने सोमवार को डिजाइन इन इंडिया इनोवेशन के तहत 12 फाइनलिस्ट की घोषणा की है। इस चैलेंज के तहत हर फाइनलिस्ट स्टार्टअप को 3.2 लाख रुपये के अलावा कई और फायदे मिलेंगे। सभी फाइनलिस्ट स्टार्टअप कंपनी को क्वालकॉम की तरफ से मेन्टरशिप ऑफर किया जाएगा। इन स्टार्टअप कंपनियों को पेटेन्ट फाइलिंग और प्रोडक्ट डेवलपमेंट के लिए क्वालकॉम की ग्लोबल सेल्स और बिजनेस टीम की तरफ से व्यापार में बढ़ावा मिलेगा। मार्च 2022 में ज्यूरी पिचिंग सेशन रखा जाएगा। विजेता को 65 लाख रुपए का एनाम दिया जाएगा। वहीं पहले रनर अप को 50 लाख रुपये, जबकि दूसरे रनर को 35 लाख रुपये का इनाम मिलेगा। क्वालकॉम के वॉयस प्रेसिडेंट सुदीप्तो राय के मुताबिक, भारत में क्वालकॉम डिजाइन चैलेंज का उद्देश्य स्टार्टअप्स को उन विचारों के साथ आगे आने के लिए प्रोत्साहित करना है जो भारत को नई उचाईयों पर ला सकते हैं, और इस प्रक्रिया में,इसके माध्यम से अपने स्वयं के नवाचारों की रक्षा करना सीख सकते हैं। क्वालकॉम डिजाइन इन इंडिया चैलेंजका छठा संस्करण नॉसकोम, स्टार्टअप इंडिया और एगनीआई के सहयोग से आयोजित किया गया था और लगभग 160 आवेदन प्राप्त हुए थे। फाइनलिस्ट स्मार्ट रोबोटिक्स, स्मार्ट इंफ्रास्ट्रक्च र, मैन्युफैक्च रिंग, एग्रीटेक स्पेस टेक और मेडिकल टेक्नोलॉजी जैसे कई क्षेत्रों से आते हैं। भारतीय स्टार्टअप में नए इनोवेशन के साथ आने की क्षमता है जो न केवल भारत के लिए बल्कि दुनिया के लिए भी समाधान प्रदान कर सकते हैं। क्वॉलकोम, इंनीजिनयरिंग के वाइस प्रसिडेंट सुदिप्तो रॉय ने कहा, हम भारत के स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र में बहुत बड़ा वादा देखते हैं और अपने कार्यक्रमों के माध्यम से इसे जारी रखेंगे। 12 शॉर्टलिस्ट किए गए स्टार्टअप को ऊष्मायन अवधि की शुरूआत में 1.6 लाख रुपये का प्रारंभिक अनुदान मिलेगा। मध्य-चक्र समीक्षा के बाद, ऊष्मायन में लगभग पांच महीने, समीक्षा आवश्यकताओं को पूरा करने वाले स्टार्टअप 1.6 लाख रुपये के अतिरिक्त अनुदान करने के लिए मिलेगा। किसी तीसरे विक्रेता के माध्यम से बिना किसी अतिरिक्त लागत के सभी स्टार्टअप के लिए एक्सेलेरेटर सेवाएं उपलब्ध होंगी। --आईएएनएस आरजेएस