पंजाब के मुख्यमंत्री चन्नी ने भाजपा को दी लोकतांत्रिक मूल्यों का सम्मान करने की चुनौती

 पंजाब के मुख्यमंत्री चन्नी ने भाजपा को दी लोकतांत्रिक मूल्यों का सम्मान करने की चुनौती
punjab-cm-channi-challenges-bjp-to-respect-democratic-values

चंडीगढ़, 5 अक्टूबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई दुखद घटना की कड़ी निंदा करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी ने मंगलवार को भाजपा को लोगों की आवाज दबाने के बजाय लोकतांत्रिक नैतिकता और मूल्यों का सम्मान करने की चुनौती दी। यहां महात्मा गांधी की आवक्ष प्रतिमा के सामने मौन विरोध प्रदर्शन करते हुए मुख्यमंत्री ने अपने कैबिनेट सहयोगियों, विधायकों और पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ केंद्र और राज्यों में भाजपा नीत सरकार की ज्यादतियों के आगे नहीं झुकने का संकल्प लिया। मुख्यमंत्री ने लखीमपुर खीरी की बर्बर घटना की तुलना जलियांवाला बाग हत्याकांड से करते हुए कहा कि यह हालिया घटना जानबूझकर उन निर्दोष किसानों को कुचलने के लिए बनाई गई थी, जो शांतिपूर्वक कृषि कानूनों का विरोध कर रहे थे। चन्नी ने कहा कि भाजपा किसानों का मनोबल गिराने के अपने नापाक मंसूबों में कामयाब नहीं हो पाएगी और इस तरह उन्हें शांतिपूर्ण आंदोलन के रास्ते से भटका नहीं पाएगी। बाद में, मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी को गिरफ्तार किए जाने को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार की खिंचाई की। प्रियंका लखीमपुर खीरी में हिंसा पीड़ित परिवारों से मिलने जा रही थीं, लेकिन उन्हें वहां पहुंचने से पहले हिरासत में ले लिया गया। उन्होंने कहा, इस तरह के कृत्यों से न केवल केंद्र में, बल्कि राज्यों में भी भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए कांग्रेस और अधिक मजबूत होकर उभरेगी। मुख्यमंत्री ने केंद्र को आगाह किया कि इस तरह की दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं के मद्देनजर युवाओं को क्रांतिकारी रास्ते पर चलने के लिए मजबूर न करें, जो अंतत: भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव और उधम सिंह जैसे महान शहीदों से न्याय पाने के लिए प्रेरणा लेंगे। चन्नी ने केंद्र से कृषि कानूनों को निरस्त करने और हर कीमत पर शांति, सद्भाव और भाईचारा बनाए रखने की अपील की। मुख्यमंत्री ने इससे पहले, महात्मा गांधी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की और लोकतांत्रिक अधिकारों की रक्षा के लिए राष्ट्रपिता से प्रेरणा लेने का संकल्प लिया। --आईएएनएस एसजीके/एएनएम

अन्य खबरें

No stories found.