privatization-is-needed-today-narendra-modi
privatization-is-needed-today-narendra-modi
देश

निजीकरण आज की जरूरत है: नरेन्द्र मोदी

news

नई दिल्ली, 24 फरवरी (हि.स)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि पब्लिक सेक्टर एंटरप्राइज को नुकसान से निकालने में करदाताओं का पैसा बर्बाद होता है। प्रधानमंत्री बुधवार को निजीकरण पर आयोजित वेबिनार में अपनी बात रख रहे थे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि निजीकरण क्यों जरूरी हो गया है। इस संदर्भ में उन्होंने कहा कि जब पब्लिक सेक्टर की शुरुआत की गई थी, तब उसकी जरूरत थी। आज की जरूरत है निजीकरण। लोगों के पैसों का सही इस्तेमाल करने के लिए निजीकरण किया जा रहा है। मोदी ने कहा कि बहुत सारे ऐसे पब्लिक सेक्टर एंटरप्राइज हैं, जो लगातार नुकसान में चल रहे हैं। ऐसे में सरकार को अक्सर इन एंटरप्राइज की मदद करनी पड़ती है और टैक्सपेयर्स का पैसा ही इसमें खर्च होता है। उन्होंने कहा कि किसी पब्लिक सेक्टर एंटरप्राइज को सिर्फ इसलिए नहीं चलाते रहना चाहिए कि वह कई सालों से चल रहा है। इन एंटरप्राइज की मालिक सरकार बनी रहे, इसकी जरूरत नहीं है। ऐसा करने से सरकार का ध्यान कल्याणकारी योजनाओं से हटता है और सरकार का पैसा व संसाधन भी लगता है। इसी संदर्भ में आगे प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार को बिजनेस करने से कई नुकसान होते हैं और उनकी भरपाई के बारे में भी सोचना पड़ता है। अबतक की सरकारें यह सोचती आई हैं कि जो जैसा चल रहा है, उसे चलने दिया जाए। आने वाली सरकारें इससे निपटेंगी। यह हमेशा से चलता ही आ रहा है। अब इससे बाहर निकलना होगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि जब निजीकरण बढ़ता है तो आधुनिकता बढ़ती है और बिजनेस का विस्तार होता है। बेहतर प्रबंधन बनता है। इन सबके चलते देश में रोजगार के नए अवसर पैदा होते हैं। हिन्दुस्थान समाचार/ब्रजेश झा