प्रधानमंत्री मोदी सोमवार को 7वें योग दिवस कार्यक्रम को करेंगे संबोधित

प्रधानमंत्री मोदी सोमवार को 7वें योग दिवस कार्यक्रम को करेंगे संबोधित
prime-minister-modi-will-address-the-7th-yoga-day-program-on-monday

नई दिल्ली, 20 जून (हि.स.)। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर 21 जून को भारत सहित दुनिया के कई देशों में योग से संबंधित कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी सोमवार को सुबह 6:30 बजे वर्जुअल माध्यम से 7वें योग दिवस कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर अपने कल के कार्यक्रम की जानकारी देते हुए लिखा, “कल 21 जून को हम 7वां योग दिवस मनाएंगे। इस वर्ष का विषय 'योग फॉर वेलनेस' है, जो शारीरिक और मानसिक कल्याण के लिए योग का अभ्यास करने पर केंद्रित है।” उन्होंने कहा कि वे कल सुबह करीब साढ़े छह बजे योग दिवस कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। कोरोना महामारी को देखते हुए इस वर्ष का अंतरराष्ट्रीय योग दिवस टेलीविजन कार्यक्रम के तौर पर मनाया जाएगा जिसमें प्रधानमंत्री मोदी का संबोधन प्रमुख आकर्षण होगा। कार्यक्रम सुबह 6:30 बजे दूरदर्शन चैनलों के माध्यम से प्रसारित होगा जिसे आयुष मंत्री किरण रिजिजू भी संबोधित करेंगे और मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान के योग प्रदर्शन से जुड़ा सीधा प्रसारण होगा। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को भारतीय मिशनों के माध्यम से भी विश्व भर में समन्वित किया जाएगा और करीब 190 देशों में इससे जुड़े आयोजन होंगे। दुनिया भर में फैली महामारी को देखते हुए 7वां योग दिवस इससे जुड़े उत्साह को कम नहीं कर पाया है और डिजिटल माध्यम से भी लोग इससे जुड़े आयोजनों में घर बैठे शामिल हो रहे हैं। इस वर्ष के योग दिवस विषय ‘योगा फॉर वैलनेस’ है। योग दिवस कार्यक्रम की शुरुआत प्रधानमंत्री के संबोधन से होगी। इसके बाद करीब 45 मिनट का योग प्रदर्शन होगा। सीधे प्रसारित होने वाले योग प्रदर्शन के बाद 15 आध्यात्मिक गुरु और योग गुरु अपना संदेश देंगे। इसमें श्री श्री रविशंकर, सद्गुरु जग्गी वासुदेव, डॉ. एच. आर. नागेंद्र, कमलेश पटेल, डॉ. वीरेंद्र हेगड़े, डॉ. हम्सजी जयदेव, ओ.पी. तिवारी, स्वामी चिदानंद सरस्वती, डॉ. चिन्मय पांडे, मुनिश्री सागर महाराज, स्वामी भारत भूषण, डॉ. विश्वास मंडलिक, बहन बी.के. शिवानी, एस. श्रीधरन और एंटोनेट रोज़ी शामिल हैं। उल्लेखनीय है कि संयुक्त राष्ट्र ने 11 दिसम्बर 2014 को 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की थी। उत्तरी गोलार्द्ध में 21 जून साल का सबसे बड़ा दिन होता है इसलिए इस दिन को पूरे विश्व में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के लिए चुना गया। 21 जून 2015 को पूरे विश्व में पहली बार अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया था। हिन्दुस्थान समाचार/सुशील

अन्य खबरें

No stories found.