प्रधानमंत्री ने सांसदों को दिया निर्देश, संसदीय क्षेत्रों में आजादी के अमृत महोत्सव का आयोजन करें

 प्रधानमंत्री ने सांसदों को दिया निर्देश, संसदीय क्षेत्रों में आजादी के अमृत महोत्सव का आयोजन करें
prime-minister-gave-instructions-to-the-mps-organize-the-amrit-mahotsav-of-freedom-in-the-parliamentary-constituencies

नई दिल्ली, 27 जुलाई (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को भाजपा संसदीय दल की बैठक में पार्टी सांसदों को आजादी का अमृत महोत्सव आयोजन पर फोकस करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि सांसद अपने संसदीय क्षेत्रों के गाँवों में आजादी के 75वें साल पूरा होने पर कार्यक्रम का आयोजन करें। प्रधानमंत्री ने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव केवल एक सरकारी कार्यक्रम नहीं है, बल्कि देश की जनता का जनांदोलन होना चाहिए। प्रधानमंत्री ने पार्टी सांसदों को जनता के बीच जाकर विपक्ष के झूठ को बेनकाब करने के लिए भी कहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सदन चलाने में व्यवधान के लिए विपक्ष पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सरकार सभी विषयों पर चर्चा के लिए तैयार है, लेकिन विपक्ष सदन चलने नहीं दे रहा है। संसदीय कार्य राज्य मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने कहा कि बैठक में प्रधानमंत्री ने कहा कि पार्टी के दो कार्यकतार्ओं की टीम प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के 75 गांवों का दौरा करेगी और प्रत्येक क्षेत्र में 75 घंटे बिताएगी। यह टीम गाँव की जनता से बात कर उनकी समस्याओं को जानेगी और पता करेगी कि उन्हें केंद्रीय योजनाओं का लाभ मिल रहा है या नहीं ? प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि 2047 में भारत आजादी के सौ साल पूरे करेगा। 2047 में भारत को किस रूप में देश की जनता देखना चाहती है, इसके बारे में भी गाँवों में चर्चा हो। -- आईएएनएस एनएनएम/आरजेएस

अन्य खबरें

No stories found.