कोलकाता में पीठासीन अधिकारी ने भाजपा उम्मीदवार को मतदान से रोका, पक्षपात का आरोप

कोलकाता में पीठासीन अधिकारी ने भाजपा उम्मीदवार को मतदान से रोका, पक्षपात का आरोप
presiding-officer-in-kolkata-stops-bjp-candidate-from-voting-alleges-bias

कोलकाता, 29 अप्रैल (हि. स.)। पश्चिम बंगाल में गुरुवार को आठवें चरण का मतदान हो रहा है। रह-रह कर टकराव के बीच पुलिस और पीठासीन अधिकारियों पर पक्षपात के आरोप लग रहे हैं। कोलकाता के जोड़ासांको विधानसभा क्षेत्र में भाजपा की उम्मीदवार मीना देवी पुरोहित को मतदान से रोकने का आरोप पीठासीन अधिकारी पर लगा है। दावा है कि जब वह अपना उम्मीदवार का पहचान पत्र लेकर वोट देने गईं तो उन्हें रोक दिया गया। पीठासीन अधिकारी ने कहा कि वोटर कार्ड या तस्वीर वाले किसी अन्य मतदाता पहचान पत्र के बगैर वह मतदान नहीं कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि वह हर बार उम्मीदवार का पहचान पत्र दिखाकर ही वोट देती रही हैं। क्योंकि वह कोलकाता नगर निगम की पार्षद रही हैं इसीलिए हर बार उन्हें चुनाव आयोग की ओर से अलग से प्रार्थी पहचान पत्र मिलता है। लेकिन पीठासीन अधिकारी ने एक भी ना सुनी। बाद में मीना देवी पुरोहित को अपने घर से वोटर कार्ड मंगाना पड़ा जिसके जरिए वह मतदान कर पाईं। हिन्दुस्थान समाचार/ओम प्रकाश/गंगा