Madhya Pradesh Coronavirus: बिना मास्क घर से निकले पर होगी कार्रवाई, मंत्री और विधायकों को भी नहीं मिलेगी छूट
Madhya Pradesh Coronavirus: बिना मास्क घर से निकले पर होगी कार्रवाई, मंत्री और विधायकों को भी नहीं मिलेगी छूट
देश

Madhya Pradesh Coronavirus: बिना मास्क घर से निकले पर होगी कार्रवाई, मंत्री और विधायकों को भी नहीं मिलेगी छूट

news

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्पष्ट चेतावनी दी है कि यदि मंत्री, विधायक या अधिकारी, भाजपा या कांग्रेस के नेता बिना मास्क पहने घर से निकले और शारीरिक दूरी का पालन नहीं किया तो उन पर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने साफ कहा कि मुख्यमंत्री से लेकर कोई भी व्यक्ति हो, सावधानियों का पालन नहीं किया तो फिर बख्शा नहीं जाएगा। मध्य प्रदेश के मंत्री, विधायकों, भाजपा पदाधिकारियों व अधिकारियों के लगातार संक्रमित होने को देखते हुए सीएम ने सख्ती के निर्देश दिए हैं। चिरायु अस्पताल में इलाजरत सीएम चौहान ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना स्थिति की समीक्षा करते हुए प्रदेश में संक्रमण के फैलाव पर चिंता जताई। कहा कि मास्क और शारीरिक दूरी का अनिवार्य रूप से पालन करके ही कोरोना संक्रमण पर पूरा नियंत्रण किया जा सकता है। लॉकडाउन खुलने पर यदि सावधानियां नहीं बरती जाती हैं और फिर से संक्रमण फैल जाता है तो पूरी मेहनत बेकार हो जाती है। लॉकडाउन करने से अर्थव्यवस्था बुरी तरह प्रभावित होती है। अब हमें मौजूदा लॉकडाउन के बाद लॉकडाउन नहीं करना है, इसलिए सभी सावधानियां बरतें। इस दौरान प्रदेश के गृहमंत्री डॉ.नरोत्तम मिश्रा, चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी व अन्य अधिकारी मौजूद थे। देश में 15वें स्थान पर मप्र मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा कि यह सही है कि कुछ दिनों में प्रदेश में कोरोना के प्रकरणों में वृद्धि हुई है लेकिन देश के स्तर पर देखा जाए तो कोरोना संक्रमण में प्रदेश का स्थान 15वां है। प्रदेश में स्वस्थ होने की दर 69.9 है और मृत्यु दर 2.77 हो गई है। उपचुनाव से ज्यादा जरूरी लोगों की जान बचाना मुख्यमंत्री ने कहा कि उपचुनाव से ज्यादा जरूरी लोगों की जान बचाना है। अब कोई भी जनप्रतिनिधि कोई भी सार्वजनिक कार्यक्रम ना करे। दिशानिर्देशों का पालन न करने पर जुर्माना लगाने के साथ प्रकरण दर्ज करने की कार्रवाई भी की जाएगी। मंत्रियों को ये निर्देश -14 अगस्त तक कोई भी सार्वजनिक दौरे नहीं करें। – वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक और वर्चुअल रैली करें। – अपने आवास पर भी एक बार में पांच से ज्यादा व्यक्तियों से न मिलें। मुरैना ने पेश किया उदाहरण जिलेवार समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले दिनों जिस तरह से मुरैना में संक्रमण फैला था, उसे रोकने के जो प्रयास किए गए, वे सराहनीय है। वहां अब कोरोना पॉजिटिविटी रेट घटकर 3.03 प्रतिशत हो गई है। ग्वालियर भी अब नियंत्रण में है। वहां बाजार खुल गए हैं।-newsindialive.in