Only agitating farmers will win, government will withdraw agricultural law: Akhilesh Yadav
Only agitating farmers will win, government will withdraw agricultural law: Akhilesh Yadav
देश

आंदोलन कर रहे किसान ही जीतेंगे, सरकार कृषि कानून वापस लेगी : अखिलेश यादव

news

-महोबा के पूर्व विधायक अरिमर्दन सिंह सपा में शामिल बांदा, 09 जनवरी(हि.स.)। समाजवादी पार्टी(सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहाकि किसान और सरकार के बीच बातचीत एक बार फिर फेल हो गई है, लेकिन अंत में किसानों की ही जीत होगी। श्री यादव शनिवार को समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता हसन उद्दीन सिद्दीकी के आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भाजपा की केंद्र सरकार किसानों से लगातार झूठ बोलकर बातचीत के नाम पर उलझाए रखना चाहती है। सरकार किसानों के उपज का न्यूनतम समर्थन मूल्य नहीं देना चाहती है। अभी कानपुर में एक किसान का धान नहीं बिका तो उसने धान पर आग लगा दी। इसी तरह बुंदेलखंड में किसानों को धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य नहीं मिला है। बुंदेलखंड में जहां किसान कर्ज के कारण आत्महत्या कर रहा है, वहीं पर्याप्त पैदावार न होने व उपज का मूल्य न मिलने से आर्थिक रूप से कमजोर हो रहा है, यही वजह है कि ठंड में काल के गाल में समा रहा है। श्री यादव ने कहा कि अभी समाजवादी पार्टी ने किसान घेरा कार्यक्रम चलाया था, अब युवा घेरा अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रदेश की सरकार ढिंढोरा पीट रही है कि डिफेंस कॉरिडोर बनाकर युवाओं को नौकरी दी जाएगी लेकिन अभी तक यह भी नहीं पता है कि सरकार कहां पर डिफेंस कॉरिडोर बना रही है। कितनी जमीन खरीदी है। कहा कि यह सरकार झूठ बोलकर बेरोजगार युवकों को गुमराह कर रही है। इस अवसर पर उन्होंने बताया कि महोबा के पूर्व विधायक अरिमर्दन सिंह ने आज समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की है। इसी तरह बांदा के महफूज खां भी अपने साथियों सहित समाजवादी पार्टी में शामिल हुए हैं। एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी लगातार लोगों को घर-घर जाकर जोड़ेगी और 2022 में प्रदेश में सरकार बनाएगी। हिन्दुस्थान समाचार/अनिल/राजेश-hindusthansamachar.in