सुचारू ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए ओडिशा स्टीवडोर्स ने दी लॉजिस्टिक सहायता

 सुचारू ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए ओडिशा स्टीवडोर्स ने दी लॉजिस्टिक सहायता
odisha-stevedores-provided-logistic-support-for-smooth-oxygen-supply

भुवनेश्वर, 22 मई (आईएएनएस)। ओडिशा स्टीवडोर्स लिमिटेड (ओएसएल) ने सिंगापुर से एमवी अन्ना मारिया द्वारा लाए गए 40 लीटर क्षमता के 24 मेडिकल ऑक्सीजन सिलेंडर, 5 मेडिकल ऑक्सीजन सिलेंडर और ऑक्सीजन रेगुलेटर-ह्यूमिडिफायर को पारादीप पोर्ट ट्रस्ट पर उतारने में महत्वपूर्ण लॉजिस्टिक सहायता प्रदान किया। जगतसिंहपुर के एडीएम डॉ. कान्हू चरण धीर ने ओडिशा सरकार की ओर से सिलेंडर प्राप्त किया। बाद में जगतसिंहपुर जिले के विभिन्न राजकीय अस्पतालों में ऑक्सीजन सिलेंडर बांटे गए। ओएसएल समूह ने अपने अनुभवी कर्मचारियों के साथ राज्य सरकार की ओर से बिना किसी लागत के उतराई, त्वरित निकासी के लिए सीमा शुल्क के साथ समन्वय, बंदरगाह निकासी और बंदरगाह से सिलेंडरों की शीघ्र निकासी जैसे कार्य किए। महामारी संकट की की घड़ी में मानवीय सामाजिक कार्यों का समर्थन करते हुए ओएसएल समूह के अध्यक्ष महिमानंद मिश्रा ने कहा, हम कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण आपात स्थिति का सामना कर रहे हैं। ओएसएल समूह राज्य और लोगों के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। हम इस महामारी में सरकार का समर्थन करने पर गर्व महसूस करते हैं। ओएसएल समूह के निदेशक चर्चित मिश्रा ने ऑक्सीजन सिलेंडरों को सुचारू रूप से उतारने के लिए कर्मचारियों को बधाई दी। चर्चित मिश्रा ने कहा कि ओएसएल अपने अस्तित्व के समय से ही यानी पिछले तीन दशकों से सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया है। जब माननीय मुख्यमंत्री ने लोगों से सीओवीआईडी कोविड-19 महामारी में मास्क पहनने का आग्रह किया था, उस वक्त भी ओएसएल ने तुरंत ओडिशा में बड़े पैमाने पर मास्क वितरण अभियान की शुरूआत की। ओएसएल समूह ने महामारी में मास्क के उपयोग के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए आम जनता को एक लाख मास्क वितरित किए। जिला प्रशासन ने इस महामारी के दौर में सहायता के लिए ओएसएल समूह की सराहना की। गौरतलब है कि ओएसएल समूह ने कार्यालय परिसर में आवश्यक सावधानी बरतते हुए कोविड-19 दिशानिदेशरें का कड़ाई से पालन किया है। पूरे ओएसएल मुख्यालय और शाखा कार्यालयों को नियमित रूप से साफ किया जाता है। आधिकारिक कर्मचारियों और श्रम बलों दोनों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। --आईएएनएस जेएनएस

अन्य खबरें

No stories found.