इम्यूनिटी बढ़ाने के मकसद से यूपी में चलेगा पौष्टिक पौधरोपण अभियान

 इम्यूनिटी बढ़ाने के मकसद से यूपी में चलेगा पौष्टिक पौधरोपण अभियान
nutritious-plantation-campaign-will-be-run-in-up-to-increase-immunity

लखनऊ, 20 जून (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार जुलाई में अलग से पौधरोपण अभियान शुरू करेगी। चल रही महामारी के बीच लोगों के स्वास्थ्य के बारे में चिंता बढ़ रही है और अभियान आम आदमी की इम्यूनिटी बढ़ाने की मदद करने के लिए औषधीय और पौष्टिक पौधों पर विशेष जोर देगा। वन विभाग के अधिकारियों के अनुसार, अभियान के तहत औषधीय और सुगंधित पौधों की डेढ़ दर्जन प्रजातियों जैसे दाहुजन, अमलतास, अर्जुन, नीम, कदंब, अशोक और हिबिस्कस को लगाया जाएगा। इनकी कुल संख्या 418 लाख के करीब होगी। इसके अलावा, राज्य सरकार ने बेल, आंवला (आंवला), कैथा, जामुन (जावा बेर), बहेड़ा और हर्र सहित औषधीय और पोषक पौधों की लगभग तीन दर्जन प्रजातियों को लगाने का लक्ष्य रखा है। औषधीय गुणों से भरपूर इन पौधों की कुल संख्या 2,82,05,994 होगी। पोषक पौधों में कस्टर्ड सेब, कटहल, नींबू, लसोड़ा, अंजीर, गूलर, महुआ, आम, शहतूत, जंगल जलेबी, अमरूद, अनार, इमली, बेर, किन्नू और पपीता भी शामिल होंगे। सरकार ने इस सीजन में 30 करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य रखा है। वन विभाग इसकी नोडल एजेंसी है, जबकि 26 अन्य विभाग भी इस अभियान में सहयोग कर रहे हैं। विभागों को कुल 19.20 करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य दिया गया है, जबकि शेष 10.80 करोड़ पौधे वन विभाग लगाएंगे। मांग के अनुसार, पौधों की समय पर उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए सभी जिलों की कृषि जलवायु परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए वन विभाग की 1,813 नर्सरियों में 42.17 करोड़ पौधे तैयार किए गए हैं। इसके अलावा रेशम एवं बागवानी विभागों ने भी अपनी नर्सरी में पौधे तैयार किए हैं। वन विभाग सरकारी विभागों, विभिन्न न्यायालय परिसरों, किसानों, संस्थानों, व्यक्तियों, निजी और सरकारी स्कूलों, केंद्र सरकार के उपक्रमों, स्थानीय निकायों, रेलवे, रक्षा, औद्योगिक इकाइयों और सहकारी समितियों को पहले की तरह मुफ्त में पौधे उपलब्ध कराएगा। पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए जो विभाग पौधे लगाएंगे, वे अपने संबंधित क्षेत्रों की जियो टैगिंग भी करवाएंगे। योगी आदित्यनाथ सरकार अब तक विभिन्न प्रजातियों के कुल 60,24,46,551 पौधे लगा चुकी है। रिकॉर्ड पौधरोपण के कारण पिछले चार वर्षों में उत्तर प्रदेश में वन आच्छादन और पौधरोपण दोनों में वृद्धि हुई है। भारतीय वन सर्वे की राज्य वन रिपोर्ट 2019 के अनुसार, 2017 की तुलना में उत्तर प्रदेश में वन क्षेत्र में 127 किमी की वृद्धि हुई है। रिपोर्ट के अनुसार, उत्तर प्रदेश का वृक्ष आच्छादन राष्ट्रीय औसत 2.89 प्रतिशत की तुलना में 3.05 प्रतिशत है। --आईएएनएस एचके/एसजीके

अन्य खबरें

No stories found.