नोएडा : प्रधानमंत्री मोदी ने एनआईसीपीआर में किया लैब का उद्घाटन, प्रतिदिन छह हजार लोगोंं की होगी कोरोना जांच
नोएडा : प्रधानमंत्री मोदी ने एनआईसीपीआर में किया लैब का उद्घाटन, प्रतिदिन छह हजार लोगोंं की होगी कोरोना जांच
देश

नोएडा : प्रधानमंत्री मोदी ने एनआईसीपीआर में किया लैब का उद्घाटन, प्रतिदिन छह हजार लोगोंं की होगी कोरोना जांच

news

- मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी हुए शामिल, 24 घंटे में आ जाएगी कोरोना रिपोर्ट -दिल्ली समेत पूरे पश्चिमी उत्तर प्रदेश को होगा फायदा, रोगियों को मिलेगा जल्द इलाज का लाभ नोएडा, 27 जुलाई (हि.स.)। उत्तर प्रदेश के नोएडा (गौतमबुद्ध नगर) के सेक्टर 39 स्थित राष्ट्रीय कैंसर रोकथाम एवं अनुसंधान संस्थान (एनआईसीपीआर) में अब कोरोना संक्रमित लोगों के सैंपल की जांच की जा सकेगी। यहां पर ऐसी लैब (मशीन) लगायी गयी है जिससे अब छह हजार सैंपलों की जांच हो सकेगी। इससे चिकित्सक रोगियाें का तेजी से कर सकेंगे जिसका लाभ मरीजों को मिल सकेगा। सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से एनआईसीपीआर संस्थान में इस लैब का उद्घाटन किया। इसी तरह की लैब कोलकाता और मुंबई में भी स्थापित की गयी है। एनआईसीपीआर में माइक्रोबायोलॉजी विभाग में उच्च क्षमता वाली रिवर्स ट्रांसक्रिप्शन पॉलीमर्स चेन रिएक्शन (आरटीपीसीआर) मशीन लगाई गई है। इस लैब से राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली समेत पूरे पश्चिमी उत्तर प्रदेश को फायदा होगा। वर्तमान में इससे बड़ी लैब देश में अन्यत्र कहीं नहीं है। इसमें 24 घंटे के अंदर ऑनलाइन ही सैंपल की रिपोर्ट मिल जाएगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि इस लैब की एक अच्छी बात यह है कि इन हाईटेक लैब्स में सिर्फ कोरोना ही नहीं बल्कि अन्य बीमारियों की भी जांच हो सकेगी। भविष्य में हेपेटाइटिस बी और सी, एचआईवी, डेंगू सहित अनेक बीमारियों की टेस्टिंग के लिए भी इन लैब्स में सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। देश के करोड़ों नागरिक कोरोना वैश्विक महामारी से बहुत बहादुरी से लड़ रहे हैं। आज जिन स्टेट में हाईटेक टेस्टिंग फेसिलिटी की लॉचिंग हुई है। उससे पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश को कोरोना के खिलाफ लड़ाई में और ताकत मिलने वाली है। हिन्दुस्थान समाचार/आदित्य-hindusthansamachar.in