विश्वविद्यालयों में 1 अक्टूबर से फस्र्ट ईयर के छात्रों का नया सत्र : यूजीसी

 विश्वविद्यालयों में 1 अक्टूबर से फस्र्ट ईयर के छात्रों का नया सत्र : यूजीसी
new-session-for-first-year-students-in-universities-from-october-1-ugc

नई दिल्ली, 17 जुलाई (आईएएनएस)। देश के विभिन्न विश्वविद्यालयों में प्रथम वर्ष के छात्रों के लिए नया बैच 1 अक्टूबर 2021 से शुरू हो जाएगा। यूजीसी ने सभी विश्वविद्यालयों, कॉलेजों और शैक्षणिक संस्थानों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि 12 वीं सीबीएसई बोर्ड और अन्य राज्य बोडरें के परिणाम घोषित होने के बाद ही नए बैच के लिए प्रवेश प्रक्रिया शुरू की जाए। यूजीसी के सचिव रजनीश जैन द्वारा जारी किए गए निर्देशों में कहा गया है कि 12वीं बोर्ड के नतीजे आने के उपरांत ही विश्वविद्यालय एवं कॉलेजो दाखिला प्रक्रिया शुरू करें। इसके साथ ही अन्य उच्च शिक्षण संस्थानों को भी यह स्पष्ट निर्देश दिया गया है की वर्ष 2021- 2022 के अंडर ग्रेजुएशन अकादमिक सत्र में दाखिला प्रक्रिया 12वीं बोर्ड रिजल्ट के बाद ही प्रारंभ की जाए। गौरतलब है कि सीबीएसई ने 12वीं बोर्ड का रिजल्ट 31 जुलाई तक घोषित करने का ऐलान किया है। विभिन्न राज्य बोर्डो द्वारा भी इसी के आसपास बारहवीं कक्षा का रिजल्ट घोषित किया जाएगा। यूजीसी द्वारा जारी किए गए दिशानिर्देशों में स्पष्ट तौर पर कहा गया है कि 1 अक्टूबर 2021 से प्रथम वर्ष के छात्रों के लिए नया अकादमिक सत्र शुरू किया जाना चाहिए। इस सत्र के लिए दाखिला प्रक्रिया 30 सितंबर तक पूरी कर ली जाए। यूजीसी ने स्पष्ट किया है कि दाखिला प्रक्रिया में खाली बची सीटों को 31 अक्टूबर तक हर हाल में भर लिया जाए। हालांकि विश्वविद्यालय दाखिले से संबंधित दस्तावेज 31 दिसंबर 2021 तक स्वीकार करेंगे। यूजीसी ने अपने निदेशरें में यह भी कहा है कि इंटरमीडिएट सेमेस्टर के छात्रों के लिए ऑनलाइन, ऑफलाइन और मिश्रित मोड में चलाए जाने वाली कक्षाएं जितनी जल्दी हो सके उतनी जल्दी शुरू की जानी चाहिए। सीबीएसई द्वारा बारहवीं कक्षा के छात्रों का परिणाम 31 जुलाई तक घोषित किया जाएगा। वहीं सीबीएसई द्वारा 12वीं बोर्ड का रिजल्ट तैयार करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इसके लिए सीबीएसई के स्कूलों को निर्देश जारी किए गए हैं। छात्रों द्वारा 11वीं कक्षा में अर्जित किए गए अंक स्कूलों को अपलोड करने होंगे। इसके अलावा सीबीएसई ने स्कूलों से प्रैक्टिकल एवं प्रोजेक्ट के अंक अपलोड करने को कहा है। --आईएएनएस जीसीबी/आरएचए

अन्य खबरें

No stories found.