नीट यूजी: 10 अक्टूबर तक पूरा करना होगा दूसरे दौर का रजिस्ट्रेशन

 नीट यूजी: 10 अक्टूबर तक पूरा करना होगा दूसरे दौर का रजिस्ट्रेशन
neet-ug-second-round-of-registration-to-be-completed-by-october-10

नई दिल्ली, 7 अक्टूबर (आईएएनएस)। नीट यूजी की परीक्षा में शामिल हुए लगभग 16 लाख उम्मीदवारों को दूसरे दौर की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया जल्द पूरी करनी होगी। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी दूसरे चरण की प्रक्रिया शुरू कर चुका है। छात्रों को यह प्रक्रिया अगले 3 दिन के अंदर पूरी कर लेनी होगी। नीट यूजी का परिणाम केवल उन्हीं छात्रों के घोषित किए जाएंगे जो आवेदन के इस दूसरे दौर को पूरा करेंगे। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) के मुताबिक छात्रों को दूसरे चरण का रजिस्ट्रेशन 10 अक्टूबर तक पूरा कर लेना है। एनटीए ने कहा है कि दूसरे चरण के रजिस्ट्रेशन के तहत सभी उम्मीदवारों को व्यक्तिगत विवरण एवं शैक्षिक विवरण देने हैं। इसके लिए इसमें 57 कॉलम भरने हैं और बाद में 4 दस्तावेज देना आवश्यक है। नीट यूजी 2021 की परीक्षा देश के 202 शहरों में 3,800 से अधिक केंद्रों में रविवार 12 सितंबर को दोपहर 2 बजे से शाम 5 बजे के बीच आयोजित की गई थी। पूरे देश में लगभग 16 लाख छात्रों ने परीक्षा में शामिल हुए थे। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी परीक्षा के लगभग एक माह के बाद नीट यूजी का रिजल्ट घोषित कर सकती है। एनटीए का कहना है कि रिजल्ट का इंतजार कर रहे छात्रों को पंजीकरण के दूसरे चरण की प्रक्रिया को अनिवार्य तौर पर पूरा करना होगा। नीट परीक्षा में उत्तीर्ण छात्र देश के विभिन्न प्रतिष्ठित मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस, बीएएमएस, बीएसएमएस, बीयूएमएस और बीएचएमएस समेत विभिन्न कोर्सेज में एडमिशन ले सकेंगे। एनटीए के मुताबिक नीट आवेदन प्रक्रिया दो चरणों में पूरी होगी। इसमें उम्मीदवारों को अपनी जानकारी दर्ज करानी है। पहला चरण ऑनलाइन आवेदन के साथ पूरा किया जा चुका है। दूसरा चरण स्कोर कार्ड जारी किए जाने से पहले पूरा होगा। एनटीए के मुताबिक शिक्षा मंत्रालय की पहल पर मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट-यूजी पहली बार दुबई में भी आयोजित की गई है। दुबई स्थित परीक्षा केंद्र के अलावा कुवैत में भी नीट-यूजी परीक्षा आयोजित करवाई गई। केंद्र सरकार ने इस बार नीट में परीक्षाओं में 27 प्रतिशत ओबीसी आरक्षण को लागू करने का फैसला किया है। साथ ही छात्रों को 13 भाषाओं में यह परीक्षा देने की सुविधा प्रदान की गई। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की पहल पर और नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के प्रावधानों के अंतर्गत इस बार छात्रों को 13 भारतीय भाषाओं में यह परीक्षा देने की सुविधा प्रदान की गई। नीट परीक्षा जिन 13 भाषाओं में आयोजित की गई उनमें अंग्रेजी, हिंदी, असमिया, बंगाली, गुजराती, कन्नड़, मलयालम, मराठी, ओडिया, पंजाबी, तमिल, तेलुगू शामिल हैं। --आईएएनएस जीसीबी/आरजेएस

अन्य खबरें

No stories found.