बंगाल में भाजपा महिला पाेलिंग एजेंटों से दुष्कर्म घटना की जांच करने बुधवार को आएगी राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम

बंगाल में भाजपा महिला पाेलिंग एजेंटों से दुष्कर्म घटना की जांच करने बुधवार को आएगी राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम
national-women39s-commission-team-to-visit-bjp-women-investigation-agents-to-investigate-rape-in-bengal

कोलकाता, 04 मई (हि.स.)। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में टीएमसी की प्रचंड जीत के बाद राज्यभर में भाजपा कार्यकर्ताओं की बर्बर तरीके से हत्या और महिला पोलिंग एजेंट के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना पर राष्ट्रीय महिला आयोग ने स्वतः संज्ञान लिया है। इन मामलों की जांच करने बुधवार को महिला आयोग की टीम कोलकाता पहुंचेगी। जानकारी मिली है कि महिलाओं के खिलाफ हिंसा के आरोपों के मद्देनजर राष्ट्रीय महिला आयोग की प्रमु्ख रेखा शर्मा टीम सदस्यों के साथ बुधवार को बंगाल आ रही हैं। वह टीम के सदस्यों के साथ पीड़ित महिलाओं से मुलाकात करेंगी। दरअसल, बंगाल भाजपा ने दावा किया है कि बीरभूम जिले के नानूर से भाजपा उम्मीदवार तारक साहा की पोलिंग एजेंट बनीं दो महिला कार्यकर्ताओं से टीएमसी के लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया है। इनमें से एक महिला को अपहरण कर ले गए थे। भाजपा ने दावा किया है कि विधानसभा क्षेत्र के 12 गांवों में भाजपा की महिला कार्यकर्ताओं के साथ शारीरिक उत्पीड़न और यौन शोषण की घटनाएं घटी हैं। हिंसा की घटनाओं की कई नेताओं ले की निन्दा नंदीग्राम से नवनिर्वाचित भाजपा विधायक शुभेंदु अधिकारी ने भी महिलाओं पर हमले की निंदा की है। भाजपा के सांसद सौमित्र खान ने भी इसे लेकर ट्वीट किया है। कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भी ट्वीट कर हिंसा की निंदा करते हुए ममता बनर्जी से कार्रवाई करने की अपील की है। भाजपा के प्रभारी और अंतरराष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने दावा किया है कि एक दिन में भाजपा के कई नेताओं-कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतारा गया है। बेलियाघाटा के अभिजीत सरकार और सोनारपुर के हारन को बर्बर तरीके से पीट-पीटकर मौत के घाट उतारा गया है। हत्या से पहले अभिजीत सरकार ने फेसबुक लाइव किया था, जिसमें तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा क्षेत्र में हिंसा के बारे में जानकारी दी थी। उसके 15 मिनट के बाद उसे पीट-पीट कर मार डाला गया। हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश