मुंबई के बाद पहली बार इंदौर में ड्रोन से हुआ एंटी लार्वा स्प्रे, मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए भी कर सकेगा अलर्ट
मुंबई के बाद पहली बार इंदौर में ड्रोन से हुआ एंटी लार्वा स्प्रे, मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए भी कर सकेगा अलर्ट
देश

मुंबई के बाद पहली बार इंदौर में ड्रोन से हुआ एंटी लार्वा स्प्रे, मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए भी कर सकेगा अलर्ट

news

इंदौर देश में पहली बार इंदौर में मलेरिया की रोकथाम के लिए ड्रोन से एंटी लार्वा स्प्रे किया गया। इसमें सीपी शेखर नगर के पास हरसिद्धी पुल से नदी में और पालदा के पास नाले में एंटी लार्वा स्प्रे का छिड़काव किया गया। अपर आयुक्त संदीप सोनी ने इसका डेमो देखा। ड्रोन की मदद से राजबाड़ा क्षेत्र में सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क पहनने आदि के लिए भी अलर्ट करते दिखाया गया। ड्रोन बनाने वाली कंपनी के अभिषेक आहलूवालिया ने बताया यह ड्रोन पूरी तरह से मेड इन इंडिया है। यह देश का सबसे ज्यादा क्षमता वाला ड्रोन है। ऑक्टागोनल ड्रोन में 26 लीटर सैनिटाइजर या एंटी लार्वा स्र्पे भरा जा सकता है। यह ड्रोन 20 मिनट तक उड़ान भर सकता है। इसके साथ ही इसमें पब्लिक अनाउंसमेंट सिस्टम भी है। राजबाड़ा पर जब इस ड्रोन का डेमो किया गया तो ट्रैफिक पुलिस के अधिकारी भी पहुंच गई। उनके सामने ही ड्रोन से लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की समझाइश दी गई। अभिषेक ने बताया कि एक ड्रोन से आप काफी सारे काम कर सकते हैं। इसका इस्तेमाल कृषि के लिए कर सकते हैं। ट्रैफिक कंट्रोल के लिए कर सकते हैं। यह पूरी तरह से अप्लीकेशन पर निर्भर है। इसे आधे घंटे से ज्यादा भी उड़ाया जा सकता है। गुरुवार को नगर निगम को डेमो दिखाया गया। इसके अलावा पुलिस को भी डेमो दिखाया जाना है। भीड़ को नियंत्रित भी कर सकता है त्योहारों को देखते हुए प्रशासन ने पांच दिन पूरी तरह से बाजार को अनलॉक कर दिया है। कलेक्टर सिंह के मुताबिक, राजबाड़ा, सराफा, आड़ा बाजार समेत सभी मध्य बाजार 30 जुलाई से 4 अगस्त तक सुबह 7 से रात 8 बजे तक खुलेंगे। इसके बाद फिर लेफ्ट-राइट सिस्टम शुरू हो जाएगा। रविवार 2 अगस्त को पूरा शहर बंद रहेगा। उस दिन केवल राखी डिलीवरी के लिए कोरियर और पोस्ट ऑफिस कर्मियों को छूट मिलेगी। जो बाजार खुल रहे हैं, उनमें व्यापारियों, ग्राहकों के लिए मास्क अनिवार्य होगा। दुकानों पर भीड़ भी नहीं लगाई जा सकेगी। त्योहारों में भीड़ को देखते हुए भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।-newsindialive.in