सिपाझार में गरजे मोदी, कहा- एनडीए की डबल इंजन की सरकार का मतलब 'संकल्प'

सिपाझार में गरजे मोदी, कहा- एनडीए की डबल इंजन की सरकार का मतलब 'संकल्प'
modi-thundered-in-sipajhar-said--nda39s-double-engine-government-means-39resolve39

-भाजपा के संकल्प पत्र का किया जिक्र, गिनाईं कांग्रेस राज की कारगुजारियां दरंग (असम), 24 मार्च (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बुधवार को असम में अपनी दूसरी चुनावी जनसभा को संबोधित करने के लिए दरंग जिला के सिपाझार विधानसभा में पहुंचे। यहां पर उन्होंने बोड़ो और असमिया भाषा में उपस्थित जनता का आभार ज्ञापित किया। उन्होंने लोगों को डबल इंजन की सरकार के फायदे और काग्रेस राज की कारगुजारियां भी गिनाईं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दरंग के नाम ही रंग है। यह रंग यहां की कला का है, संस्कृति का है। यहां के सामर्थ्य का है। मां महाकालिका का यह क्षेत्र है, मां की सभी पर कृपा बनी रहे, यह मैं कामना करता हूं। दरंग की कला विशेष रूप से औझापाली देश की सबसे परफार्मिंग आर्ट है। यहां पर असम साहित्य का भी मंगल तीर्थ है। आजादी के आंदोलन में भी दरंग के अनेक सेनानियों ने इस धरती की रक्षा के लिए अपना बलिदान दिया। पथरुघाट की किसान क्रांति, देश की आजादी का एक अहम हिस्सा है। आज जब हम आजादी के पर्व की 75वीं वर्षगांठ मनाने जा रहे हैं, तो इन वीर बलिदानियों की धरती व शहीदों को मैं नमन करता हूं। मोदी ने कहा कि आज असम रायफल के स्थापना का 146वां दिवस भी है। असम रायफल का देश की रक्षा में गौरवमयी इतिहास रहा है। मैं असम की धरती से असम रायफल की शौर्य व परंपरा का अभिनंदन करता हूं। प्रधानमंत्री ने कहा कि असम के इस क्षेत्र की कला की यहां के सामर्थ्य की, आत्मनिर्भर भारत के निर्माण में बहुत बड़ी भूमिका है। इसलिए मैं जनता से डबल इंजन की सरकार को मजबूती देने के लिए आग्रह करने के लिए यहां आया हूं। भाजपा, एनडीए की डबल इंजन की सरकार का मतलब संकल्प है। यानी असम के तेज विकास का, आत्मनिर्भर असम का संकल्प है। भाजपा सरकार असम की भाषा, भेष-भूष, संस्कार और संस्कारों का सम्मान करती है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार भ्रष्टाचार, हिंसा, आतंक, घुसपैठ से सुरक्षा को प्रमुखता देती है। पढ़ाई, दवाई, कमाई, आजाही और सिंचाई की सुविधा के लिए कार्य किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पांच वर्ष पहले हम जनता के बीच परिवर्तन के साथ आए थे। आज तेज विकास के लिए आए हैं। विधानसभा चुनावों के मद्देनजर जारी संकल्प पत्र का जिक्र करते हुए कहा कि असम भाजपा ने जो संकल्प पत्र जारी किया है, उसकी सिद्धि असम में समृद्धि लाएगी। इसके लिए असम भाजपा का मैं आभार जताता हूं। हम अपने रिपोर्ट कार्ड के साथ ही भविष्य़ के असम, आत्मनिर्भर असम के विजन लेकर आए हैं। उन्होंने कहा कि पांच वर्ष से जो डबल इंजन की सरकार चल रही है, वह सेतुओं वाली सरकार है। हमने विकास के सेतु बांधे हैं। आज पूरे असम में एक समान विकास हो रहा है जबकि कांग्रेस की सरकार में भेदभाव होता था। आज बराक, ब्रह्मपुत्र, पहाड़, मैदानी क्षेत्र के लोग एक समान अपनी संस्कृति और परंपरा को साझा कर रहे हैं। पांच साल में हिंसा पर लगाम लगी है। पड़ोसी राज्य पश्चिम बंगाल पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि बंगाल में आए दिन हिंसा, बम धमाके, मौत के खेल खेले जाते हैं। असम में ऐतिहासिक बोड़ो समझौता करके स्थायी शांति को सुदृढ़ किया है। पूरा असम शांति के साथ विकास के नये पथ पर चल पड़ा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि पुल के अभाव का क्या असर होता है, इसका पता दरंग को अच्छी तरह से है। ब्रह्मपुत्र पर सराइघाट पर डबल इंजन की सरकार ने दूसरा पुल बनाकर लोगों को सहूलियत दी। कांग्रेस सिर्फ अटकाने, भटकाने व लटकाने का कार्य करती है। कांग्रेस के (केंद्र) 10 वर्ष की सत्ता में सिर्फ दो बड़े पुल बने जबकि एनडीए की सरकार के छह वर्ष के शासनकाल में छह बड़े पुलों के निर्माण कार्य शुरू हो चुके हैं। अनेक लटके हुए पुलों को तेजी से साथ पूरा किया गया। इससे कनेक्टिविटी तेज हुई है। असम के सामर्थ्य को नया बल मिला है। किसानों, उद्योगों को नये अवसर मिल रहे हैं। इससे इलाज व पढ़ाई की परेशानी भी कम हुई है। पूरे असम में हमारी डबल इंजन की सरकार हवाई, रेल, सड़क व जल मार्ग पर तेजी से काम कर रही है। गुवाहाटी एय़र पोर्ट का विस्तार, रूपसी, डिब्रूगढ़ एयर पोर्ट की क्षमता को बढ़ाया गया है। इससे पर्टयन के क्षेत्र को बल मिलेगा। रेलवे कनेक्टिविटी को भी बल मिल रहा है। असम के इतिहास में पहली बार बंगाईगांव से सरुपेटा के बीच इलेक्ट्रिक इंजन चल रहा है। महाबाहु ब्रह्मपुत्र से जल मार्ग को भी बल मिला है। पड़ोसी देशों को भी इससे कनेक्ट किया जा रहा है। तीन रोरो सर्विस शुरू की गई हैं। ये सारे प्रयास असम को देश का एक बहुत बड़ा व्यापारिक केंद्र बनाने में मददगार साबित होंगे। उन्होंने कहा कि असम के लोगों को पक्के घर, गैस और नल से जल मिले, यह हमारी प्राथमिकता है। बीते पांच वर्ष में असम की कनेक्टिविटी बढ़ाने में हमारी सरकार ने जोर दिया है। अगला पांच वर्ष अब असम को आत्मनिर्भर बनाने पर हमारा जोर होगा। कोल्ड स्टोरेज, फूड प्रोसेसिंग उद्योग के लिए नये रास्ते खुले हैं। सरकार और निजी निवेश भी सामने आ रहे हैं। गुवाहाटी के पास 150 किमी लंबा इंडस्ट्रीयल कॉरिडोर बनाया जा रहा है। इसका सीधा लाभ दरंग के किसानों व यहां के नौजवानों को भी होगा। मछली पालन पर भी सरकार विशेष जोर दे रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास आज न नेता है, न सही नीयत है। कांग्रेस अब एक ही नीति पर चल रही है। झूठ बोलो, भ्रम फैलाओं और सत्ता हासिल करो। कांग्रेस से सतर्क रहना है। उन्होंने उपस्थित जनता से डबल इंजन की सरकार को मजबूत करने के लिए भाजपा को वोट देने का आह्वान किया। हिन्दुस्थान समाचार/ अऱविंद

अन्य खबरें

No stories found.