मोदी ने मॉरिशस के पीएम जगन्नाथ के साथ वहां के सुप्रीम कोर्ट की नई बिल्डिंग का उद्धाटन किया; कहा- लोकतांत्रिक व्यवस्था में अदालतें अहम
मोदी ने मॉरिशस के पीएम जगन्नाथ के साथ वहां के सुप्रीम कोर्ट की नई बिल्डिंग का उद्धाटन किया; कहा- लोकतांत्रिक व्यवस्था में अदालतें अहम
देश

मोदी ने मॉरिशस के पीएम जगन्नाथ के साथ वहां के सुप्रीम कोर्ट की नई बिल्डिंग का उद्धाटन किया; कहा- लोकतांत्रिक व्यवस्था में अदालतें अहम

news

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को मॉरिशस के सुप्रीम कोर्ट की नई बिल्डिंग का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उद्घाटन किया। इस दौरान मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्रवींद जगन्नाथ भी मौजूद रहे। यह बिल्डिंग राजधानी पोर्ट लुईस में बनाई गई है। इसको तैयार करने में भारत ने सहयोग दिया है। अपने भाषण में मोदी ने कहा- भारत और मॉरिशस लोकतांत्रिक व्यवस्था में अपनी अदालतों को अहम पिलर मानते हुए उनका सम्मान करते हैं। 2016 में भारत ने मॉरिशस को 35.3 करोड़ डॉलर का विशेष आर्थिक पैकेज दिया था। इससे यहां इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार किया जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट की नई बिल्डिंग इसी कड़ी का हिस्सा है। 100 बेड का एक सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल भी तैैयार किया जा रहा है। मोदी ने और क्या कहा प्रधानमंत्री मोदी ने अपने भाषण में कहा, “मैं मॉरिशस सरकार को कोरोना के प्रभावी मैनेजमेंट के लिए बधाई देता हूं। मुझे खुशी है कि इस कोशिश में भारत समय पर दवाएं सप्लाई करके और अपने अनुभव शेयर करके आपकी मदद कर पाया। भारत और मॉरिशस लोकतांत्रिक व्यवस्था में अपनी अदालतों को अहम पिलर मानते हुए उनका सम्मान करते हैं। मॉरिशस के कोर्ट की बिल्डिंग का आधुनिक डिजायन और निर्माण इसी सम्मान का प्रतीक है। भारत के सागर सिक्योरिटी विजन और सभी इलाकों की ग्रोथ के बारे में सबसे पहले मॉरिशस से बात की थी, क्योंकि भारतीय समुद्र क्षेत्र में हमारे के प्रयासों के लिए मॉरिशस केंद्र है।” ये हमारे मजबूत रिश्तों का प्रतीक मोदी ने कहा, “आज हम दोनों देशों की दोस्ती का एक और अध्याय लिख रहे हैं। मॉरिशस के सुप्रीम कोर्ट की यह नई बिल्डिंग मॉर्डन टेक्नोलॉजी की मदद से बनी है। यह न्यायपालिका में हमारे गहरे भरोसे का भी प्रतीक है। जल्द ही यहां मेट्रो नेटवर्क और नया हॉस्पिटल भी तैयार होगा। इससे मॉरिशस के लोगों को काफी मदद मिलेगी।” विकास में मदद करते रहेंगे प्रधानमंत्री ने आगे कहा, “मैंने कहा कहा था कि हमारे SAGAR शब्द के मायने हैं- सिक्योरिटी एंड ग्रोथ फॉर ऑल इन द रीजन। यह इसलिए भी जरूरी है क्योंकि मॉरिशस हिंद महासागर के बीच में है। इतिहास ने हमें सिखाया कि डेवलपमेंट पार्टनरशिप्स के नाम पर देशों को दूसरों पर निर्भर बनाया जाता रहा है। इसने ही उपनिवेशवाद और राजशाही को जन्म दिया। इससे ही दुनिया में पावर ब्लॉक्स बने। भारत के लिए विकास के मायने हैं कि उनके सहयोगियों का सम्मान हो। इसलिए विकास की बात जब होती है तो भारत शर्तें नहीं थोपता।” मोदी ने मॉरिशस की मेट्रो परियोजना का भी उद्घाटन किया था 2019 में मोदी ने मॉरिशस के प्रधानमंत्री के साथ वहां के मेट्रो एक्सप्रेस और एक अस्पताल के प्रोजेक्ट का शुभारंभ किया था। भारत की मदद से तैयार की जा रही मेट्रो परियोजना के तहत सितंबर 2019 में ही 12 किमी. लाइन बिछा ली गई थी।-newsindialive.in