मोदी सरकार कोरोना से निपटने में नाकाम : सोनिया गांधी

मोदी सरकार कोरोना से निपटने में नाकाम : सोनिया गांधी
modi-government-failed-to-deal-with-corona-sonia-gandhi

नई दिल्ली, 07 मई (हि.स.)। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शुक्रवार को कहा कि देश को एक काबिल और दूरदर्शी नेतृत्व की जरूरत है जो कोरोना महामारी जैसे संकट से देश को उबार सके। मोदी सरकार पर सीधा प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार उदासीन बनी हुई है और हजारों लोग मारे जा रहे हैं। कांग्रेस संसदीय दल की बैठक को वर्चुअल माध्यम से संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्षा ने कहा कि मोदी सरकार को त्वरित एक सर्वदलीय बैठक आयोजित करनी चाहिए। साथ ही उन्होंने यह भी मांग की कि महामारी से निपटने के लिए सामूहिक कार्रवाई और जवाबदेही सुनिश्चित करने के लिए स्थायी समितियों का गठन किया जाना चाहिए। सोनिया ने कहा, “वर्तमान राजनीतिक नेतृत्व ने देश को अपंग बना दिया है और सरकार के पास अपने नागरिकों के लिए कोई सहानुभूति नहीं है।” बैठक में उन्होंने पार्टी सांसदों से स्थिति से निपटने के तरीके पर विचार मांगे। साथ ही पार्टी सांसदों से कहा कि वायरस के खिलाफ लड़ाई राजनीतिक मतभेदों से ऊपर है और देश को मिलकर यह लड़ाई लड़नी होगी। हाल में हुए चुनावों पर कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी का प्रदर्शन निराशाजन रहा है। ऐसे में सभी को मिलकर इस हार से सबक सिखना होगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस कार्यसमिति जल्द ही बैठक कर हार के कारणों पर चर्चा करेगी। उल्लेखनीय है कि चार राज्यों और एक केन्द्र शासित प्रदेश में हुए हालिया चुनावों के बाद यह कांग्रेस अध्यक्ष की पार्टी सांसदों के साथ पहली चर्चा बैठक थी। मार्च में समाप्त हुए संसद के बजट सत्र के बाद कांग्रेस संसदीय दल की यह पहली बैठक है। पार्टी केरल और असम में सत्ता में लौटने में नाकाम रही। पश्चिम बंगाल में एक सीट पर सीमट गई और पुडुचेरी में भी सत्ता से बाहर ही रही। केवल तमिलनाडु में द्रमुक के साथ के चलते राज्य में कुछ बेहतर कर पायी है। हिन्दुस्थान समाचार/अनूप