mathura-stf-sent-temporary-prison-to-rauf-sharif-of-pfi
mathura-stf-sent-temporary-prison-to-rauf-sharif-of-pfi
देश

मथुरा: पीएफआई के रऊफ शरीफ को एसटीएफ ने भेजा अस्थाई जेल

news

मथुरा, 23 फरवरी (हि.स.)। पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) छात्र विंग संगठन के महासचिव रऊफ शरीफ को एसटीएफ की टीम ने मंगलवार अस्थाई जेल भेज दिया है। संभावना है कि पांच दिन की पुलिस रिमांड में एसटीएफ ने दिल्ली व अन्य प्रदेशों से उसके खिलाफ पुख्ता सबूत एकत्र कर लिये हैं। 18 फरवरी को एडीजे प्रथम कोर्ट की अनुमति मिलने के बाद एसटीएफ की टीम ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) छात्र विंग संगठन महासचिव रऊफ शरीफ को पांच दिन की पुलिस अभिरक्षा में रखा था। इस दौरान एसटीएफ की टीम ने आरोपी को साथ लेकर प्रदेश के कई स्थानों पर छापेमारी की। रिमांड अवधि खत्म होने के बाद एसटीएफ की टीम ने मंगलवार को आरोपी को अस्थाई जेल में दाखिल कराया। जिला शासकीय अधिवक्ता शिवराम सिंह ने बताया पीएफआई के राष्ट्रीय महासचिव राऊफ को अदालत ने न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। उसकी न्यायिक हिरासत पर दो मार्च को सुनवाई होगी। एसटीएफ के डिप्टी एसपी विनोद सिरोही अपनी टीम के साथ कड़ी सुरक्षा में राऊफ मथुरा लेकर आए। एसटीएफ के एसआइ ब्रह्मप्रकाश सिंह भी मौजूद रहे। एसटीएफ के डिप्टी एसपी विनोद सिरोही केए राऊफ शरीफ से पांच दिन तक विभिन्न बिंदुओं पर पूछताछ की गई है। इसके चार साथियों को मांट पुलिस ने किया था गिरफ्तार हाथरस के बहुचर्चित किशोरी हत्याकांड को लेकर सांप्रदायिकता फैलाने के आरोप में पुलिस ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के चार सदस्य अतीकुर्रहमान, आलम, सिद्दीकी और मसूद को पिछले साल पांच अक्टूबर को जनपद के मांट टोल प्लाजा पर गिरफ्तार किया था। चारों सदस्यों के पास से जस्टिस फॉर हाथरस पंपलेट, लैपटॉप, मोबाइल सामग्री बरामद की गई थी। आरोप है कि ये चारों लोग हाथरस में जाकर संप्रदाय हिंसा फैलाना चाहते थे। जनपद के मांट टोल प्लाजा पर गिरफ्तार किए गए पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के चार सदस्यों से एसटीएफ की टीम ने सघनता से पूछताछ की थी। पीएफआई के सदस्य अतीक उर रहमान और मसूद को दंगा भड़काने की साजिश में आर्थिक मदद पहुंचाने में रऊफ शरीफ का नाम प्रकाश में आया था जोकि विदेशों से फंडिंग कराता था। हिन्दुस्थान समाचार/महेश