म्यांमार के रास्ते मणिपुर सहित देश दूसरे हिस्सों में हेरोइन सप्लाई करने वाले अंतरराष्ट्रीय गैंग के दो ड्रग्स तस्कर गिरफ्तार
म्यांमार के रास्ते मणिपुर सहित देश दूसरे हिस्सों में हेरोइन सप्लाई करने वाले अंतरराष्ट्रीय गैंग के दो ड्रग्स तस्कर गिरफ्तार
देश

म्यांमार के रास्ते मणिपुर सहित देश दूसरे हिस्सों में हेरोइन सप्लाई करने वाले अंतरराष्ट्रीय गैंग के दो ड्रग्स तस्कर गिरफ्तार

news

नई दिल्ली, 24 जुलाई (हि.स.)। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने म्यांमार के रास्ते मणिपुर होते हुए देश दूसरे हिस्सों में हेरोइन सप्लाई करने वाले अंतरराष्ट्रीय गैंग के दो ड्रग्स तस्करों को दबोचा है। आरोपियों की पहचान मणिपुर निवासी इकबाल खान (28) इशाक खान (27) के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपियों के पास से 40 करोड़ रुपये की 10 किलो हेरोइन, एक आई-20 कार व तीन मोबाइल फोन बरामद किए हैं। आरोपी कार के गेट और पहिये के पास विशेष जगह बनाकर हेरोइन वहां छिपाकर दिल्ली-एनसीआर व देश के दूसरे हिस्सों में पहुंचाते थे। हर बार आरोपी अपनी कार का रंग बदल देते थे, इसलिए उन्हें हर ट्रिप पर 50 हजार रुपये खर्चा करना होता था। स्पेशल सेल के पुलिस उपायुक्त संजीव कुमार यादव ने बताया कि पिछले दिनों उनकी टीम ने अली नामक एक ड्रग तस्कर को दबोचा था। जांच के दौरान उसका पता चला था कि अली म्यांमार से मणिपुर हेरोइन मंगाता है। इसके बाद उत्तर-पूर्वी राज्यों, पश्चिम बंगाल होते हुए हेरोइन को दिल्ली-एनसीआर और पश्चिम उत्तर प्रदेश में पहुंचाया जाता है। जानकारी जुटाने के बाद पुलिस को पता चला कि उसके गुर्गें लगाकर हेरोइन लेकर दिल्ली-एनसीआर व यूपी आते हैं। इस बीच बृहस्पतिवार को उनकी टीम को सूचना मिली कि रात के समय संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर, जीटी रोड पर हेरोइन लेकर कुछ तस्कर आने वाले हें। जानकारी जुटाकर पुलिस ने मणिपुर निवासी इकबाल व इशाक को दबोच लिया। इनके पास से आठ किलो हेरोइन बरामद हो गई। पूछताछ के दौरान आरोपियों ने बताया कि इनकी कार खराब होने की वजह से बरेली में खड़ी है। दो किलो हेरोइन में उसमें है। पुलिस की टीम ने कार को बरामद कर वहां से हेरोइन भी बरामद कर ली। आरोपियों ने बताया कि हेरोइन उन्हें किसी नाजिम नामक शख्स को देना था। इकबाल ने बताया कि वह पेशे से ड्राइवर था। बाद में उसने अली के साथ मिलकर काम शुरू कर दिया। अली हर ट्रिप के उसे एक लाख रुपये देता था। इकबाल ने बाद में अपना काम शुरू कर दिया। इशाक उसके यहां राजमिस्त्री का काम करने आया था, जिसे उसने अपने साथ मिला लिया था। दोनों मिलकर हेरोइन की तस्करी कर रहे थे। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in