mamta39s-shout--39as-long-as-i-am-alive-i-will-not-let-bengal-rule-gujarat39
mamta39s-shout--39as-long-as-i-am-alive-i-will-not-let-bengal-rule-gujarat39
देश

ममता की हुंकार- 'जब तक जिंदा हूं, बंगाल पर गुजरात का शासन नहीं होने दूंगी'

news

ओम प्रकाश कोलकाता, 05 अप्रैल (हि.स.)। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में अब राजनीतिक दलों के शीर्ष नेताओं ने चौथे चरण मतदान वाले इलाकों में प्रचार तेज किया है। सोमवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि वह जब तक जिंदा रहेंगी, तब तक भारतीय जनता पार्टी और गुजरात को बंगाल में शासन नहीं करने दूंगी। उन्होंने कहा कि कोरोना के बहाने बंगाल में लॉकडाउन कर चुनाव को रोका जा सकता है। तृणमूल सुप्रीमो हुगली जिले के बंडेल में एक चुनाव सभा को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि मर जाऊंगी लेकिन बंगाल पर गुजरात का शासन नहीं होने दूंगी। भाजपा को एक इंच जमीन भी नहीं जीतनें दूंगी। ममता बनर्जी ने कहा कि चुनाव के पहले जानबूझकर मेरा एक पांव तोड़ दिया गया है, लेकिन एक पांव से ही मैं बंगाल जय करूंगी और दो पांव से आने वाले दिनों में दिल्ली दखल करूंगी। ममता बनर्जी ने कहा, “मंगलवार को फिर मतदान होना है। चुनाव के पहले पुलिस अत्याचार करे, तो उसका वीडियो बनाएं और उसे वायरल कर दें। नंदीग्राम में भी उनके बूथ एजेंट को मारा गया। उसकी नाक तोड़ दी गई। उन्होंने कहा कि बूथ के एजेंट को ठान लेना होगा कि जान से मार दे, फिर भी बूथ नहीं छोड़ेंगे। नंदीग्राम के चुनाव के पहले भी अत्याचार किया था। इस कारण मुझे बूथ में बैठना पड़ा था।” ममता बनर्जी ने कहा कि मैं तो जीतूंगी ही, जहां भी खड़ी होऊंगी, वहीं से जीतूंगी, लेकिन और सीटों पर भी जीत हासिल करनी होगी। इस जनसभा में ममता बनर्जी ने फिर से चंडी पाठ किया और अल्लाह का नाम लेकर दुआएं मांगीं। उन्होंने कहा, “मैं ब्राह्मण घर की बेटी हूं। हम सभी एक हैं। हमारे बीच कोई भेदभाव नहीं है। लेकिन गुजरात बंगाल पर शासन नहीं करेगा। आने वाले दिनों में दंगा करने पर पंगा लेना होगा। ममता बनर्जी ने छत्तीसगढ़ में माओवादी हमले का जिक्र किए बिना कहा कि गृह मंत्री बंगाल में बैठे रहते हैं, बंगाल दखल करेंगे, लेकिन पुलवामा में हमले हुए और पुलिस पर हमले हो रहे हैं। इसकी चिंता नहीं है। उन्होंने कहा कि कोविड के नाम पर चुनाव बंद नहीं करने देंगे। उन्होंने पहले ही कहा था कि वह पैसे देती हैं। सभी लोगों को इंजेक्शन दें, लेकिन इंजेक्शन नहीं दिया और अब बार-बार लॉकडाउन किया जा रहा है। उन्होंने इस बात का भी इशारा किया कि कोरोना के बहाने बंगाल में भी लॉकडाउन लगाकर चुनाव रोका जा सकता है। हिन्दुस्थान समाचार