राफेल आने से देशवासी में है जोश और दुश्मन के उड़ गए होश : पूर्व सेनाध्यक्ष
राफेल आने से देशवासी में है जोश और दुश्मन के उड़ गए होश : पूर्व सेनाध्यक्ष
देश

राफेल आने से देशवासी में है जोश और दुश्मन के उड़ गए होश : पूर्व सेनाध्यक्ष

news

राफेल आने से देशवासी में है जोश और दुश्मन के उड़ गए होश : पूर्व सेनाध्यक्ष नई दिल्ली। राफेल जैसे अत्याधुनिक फाइटर के भारतीय वायुसेना का हिस्सा बनने पर भारतीय सेना में बेहद खुशी है। पूर्व सेनाध्यक्ष जनरल जेजे सिंह ने कहा कि हर देशवासी का हृदय बाग-बाग हो गया है। जो हमारे दुश्मन है अब उनको डर लग रहा होगा। राफेल के आने और भारतीय वायुसेना में शामिल होने को लेकर पूर्व सेनाध्यक्ष जनरल जेजे सिंह ने कहा कि इससे जोश बहुत ऊंचा है, बुलंद है, हर देशवासी का हृदय बाग-बाग है। हमारे जो दुश्मन हैं, अब उनको डर लग रहा होगा। राफेल विमान की अंबाला एयरबेस पर लैंडिंग, वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने किया स्वागत उन्होंने कहा कि आज का दिन बेहद खास है। आज वायुसेना को ऐसी शक्ति मिली है जो उन्हें मजबूती प्रदान करेगी। वायुसेना का इससे मनोबल भी बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि अगर युद्ध होगा तो हमें इस कारगर जहाज की बहुत मदद मिलेगी। राफेल के आने के बाद क्षेत्र में किस तरह का असर पड़ेगा, इस पर पूर्व सेनाध्यक्ष जेजे सिंह ने कहा कि पहली नजर पर हम मानसिक रूप से मजबूत हो गए हैं। जैसे-जैसे ये आते जाएंगे हमारी क्षमता और मजबूत होती जाएगी। यह फोर्स मल्टीप्लायर है। उन्होंने कहा कि दक्षिण एशिया में यह सबसे उन्नत किस्म का विमान है। ऐसा विमान न तो पाकिस्तान के पास है और न ही चीन के पास। एयरटेल को लगभग 16 हजार करोड़ का घाटा, सिर्फ एक महीने में घटे इतने प्रतिशत उपभोक्ता उन्होंने आगे कहा कि अब राफेल आ गया है और जैसे-जैसे यह आता जाएगा हमारी क्षमता और बढ़ती जाएगी। हम अपनी सीमा और क्षेत्र को महफूज रख सकते हैं। राफेल को लेकर अब देश में क्रेडिट वार शुरू हो गया और कांग्रेस कह रही है कि इस विमान को लेकर शुरुआत हमने की थी, इस पर पूर्व सेनाध्यक्ष जेजे सिंह कहते हैं कि जब हमारी फौज की क्षमता बढ़ती है तो इसका क्रेडिट किसी को नहीं लेना चाहिए। शुरुआत में राफेल को लेकर देश में जमकर विवाद हुआ और आज इसके भारत आने को लेकर रक्षा विशेषज्ञ और विंग कमांडर (रिटायर) वार्लिन पंवार ने कहा कि किसी चीज का हम बहुत इंतजार कर रहे हों और राजनीतिक विवाद की वजह से मामला अटक जाए तो यह सही नहीं होता। लेकिन कोरोना महामारी और चीन के साथ जारी सीमा विवाद के बीच राफेल का आना एक बहुत बड़ा संदेश है। Thank You, Like our Facebook Page - @24GhanteUpdate 24 Ghante Online | Latest Hindi News-24ghanteonline.com