भाजपा पूंजीवाद की पोषक पार्टी है, जिसमें गरीबों की कोई सुनने वाला नहीं : अखिलेश
भाजपा पूंजीवाद की पोषक पार्टी है, जिसमें गरीबों की कोई सुनने वाला नहीं : अखिलेश
देश

भाजपा पूंजीवाद की पोषक पार्टी है, जिसमें गरीबों की कोई सुनने वाला नहीं : अखिलेश

news

भाजपा पूंजीवाद की पोषक पार्टी है, जिसमें गरीबों की कोई सुनने वाला नहीं : अखिलेश लखनऊ। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार को जनहित के निर्णय लेने में अक्षम बताते हुए कहा कि भाजपा की आर्थिक नीतियों के कारण कारोबार चौपट हो गये। श्री यादव ने सोमवार को यहां पार्टी मुख्यालय पर अन्जान आदमी पार्टी का सपा में विलय की घोषणा करते हुए कहा कि भाजपा की आर्थिक नीतियों के कारण कारोबार चौपट हो गये हैं। भाजपा सरकार जनहित में कोई भी निर्णय लेने में सक्षम नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा पूंजीवाद की पोषक पार्टी है जिसमें गरीबों की कोई सुनने वाला नहीं है। भाजपा नौजवानों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। बेरोजगारी के कारण अपराधों में लगातार वृद्धि होती जा रही है। भाजपा सरकार किसी भी समस्या का समाधान नहीं करना चाहती है। भाजपा के कारण ही अराजकता पैदा हो गयी है। कानून का किसी को भय नहीं है। जब स्वयं भाजपा के नेता कानून के साथ खिलवाड़ करते है तब कानून का राज कैसे कायम हो सकता है। गोरखपुर : अपहरण के बाद पांचवी के छात्र की हत्या, मांगी थी 1 करोड़ की फिरौती इस अवसर पर अन्जान आदमी पार्टी के अध्यक्ष डाॅ0 आशुतोष मिश्रा ने कहा कि भाजपा के कारण लोकतंत्र के सामने जो संकट आया है। उसका सामना करने एवं समाजवादी पार्टी को ताकत देने के लिए विलय का निर्णय लिया गया है। अंजान आदमी पार्टी के नेताओं का मानना है कि समाजवादी सरकार द्वारा जनहित के विकास कार्यों एवं समाजवादी पार्टी की नीतियों से प्रभावित होकर यहां आये है। उन्होंने कहा कि भाजपा की जनविरोध की राजनीति तथा सरकार की मनमानी व अन्यायपूर्ण रवैया के कारण आमजन संकट में है। भाजपा ने आर्थिक-सामाजिक विषमता पैदा की है। सद्भाव को बिगाड़ा है। जातिवाद का नंगा नाच भाजपा कर रही है। भाजपा राज में पीड़ित की कहीं सुनवाई नहीं है। उनका मानना है कि ऐसी सरकार को सत्ता से बाहर करने की ताकत समाजवादी पार्टी और श्री अखिलेश यादव के नेतृत्व में ही है। 3 बच्चों का हवाला देकर फीस में छूट मांगी तो प्रिंसिपल बोले- 3 बच्चे करन नू मै किहा सी इस अवसर पर श्री यादव ने समाजवादी पार्टी का झण्डा प्रदान किया तथा लाल टोपी पहनायी गयी। इन सभी नेताओं द्वारा समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की गई। श्री अखिलेश यादव ने अंजान आदमी पार्टी का विलय स्वीकार कर कहा कि समाजवादी पार्टी की नीतियाें से ही सामाजिक सद्भाव एवं लोकतांत्रिक समाजवादी व्यवस्था को ताकत मिलेगी। समाजवादी पार्टी की प्रतिबद्धता शोषित-पीड़ित वंचित तथा उपेक्षा के शिकार समाज को न्याय दिलाने की है। Thank You, Like our Facebook Page - @24GhanteUpdate 24 Ghante Online | Latest Hindi News-24ghanteonline.com