जनवरी से भारत में अब 1,300 COVID परीक्षण लैब हैं, 5 लाख से ज्यादा रोज हो रहे हैं टेस्ट
जनवरी से भारत में अब 1,300 COVID परीक्षण लैब हैं, 5 लाख से ज्यादा रोज हो रहे हैं टेस्ट
देश

जनवरी से भारत में अब 1,300 COVID परीक्षण लैब हैं, 5 लाख से ज्यादा रोज हो रहे हैं टेस्ट

news

जनवरी से भारत में अब 1,300 COVID परीक्षण लैब हैं, 5 लाख से ज्यादा रोज हो रहे हैं टेस्ट नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 3 टेस्टिंग लैब का उद्घाटन करते हुए कहा कि आज देश में कोरोना से होने वाली मृत्यु, बड़े-बड़े देशों के मुकाबले काफी कम है। भारत कोरोना से लड़ाई में अच्छे से आगे बढ़ रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि एक जनवरी से, भारत में अब 1,300 COVID परीक्षण लैब हैं। आज भारत में 5 लाख से ज्यादा टेस्ट हर रोज हो रहे हैं। सभी के सामुहिक प्रयासों से न केवल लोगों का जीवन बच रहा है, बल्कि जो चीजें हम आयात करते थे, देश आज उनका एक्सपोर्टर बनने जा रहा है। इतने कम समय में इतना बड़ा फिजिकल इंफ्रास्ट्रक्चर खड़ा हुआ है, उससे आप सभी परिचित हैं। पीएम मोदी ने कहा कि आइसोलेशन सेंटर हों, कोविड स्पेशल हॉस्पिटल हो, टेस्टिंग, ट्रेसिंग और ट्रैकिंग से जुड़ा नेटवर्क हो, भारत ने बहुत ही तेज गति से अपनी क्षमताओं का विस्तार किया। सीएम योगी ने कहा, प्रतिदिन 1,500 से 2,500 तक बढ़ाई जाए रैपिड टेस्ट की संख्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए नोएडा, मुंबई और कोलकाता में उच्च श्रेणी के तीन कोविड-19 टेस्टिग सेंटर का शुभारंभ किया. आईसीएमआर की ओर स्थापित इन सेंटर्स से अब और अधिक टेस्टिंग हो सकेगी। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश के करोड़ों नागरिक, कोरोना वैश्विक महामारी से बहुत बहादुरी से लड़ रहे हैं। These labs will not remain restricted to testing of #COVID19 but will be expanded for testing of many other diseases including Hepatitis B & C, HIV, & Dengue in future: PM Modi at launch of 3 new high-throughput labs of ICMR at Noida, Kolkata & Mumbai through video conference pic.twitter.com/muEOcf4m0m — ANI (@ANI) July 27, 2020 पीएम मोदी ने कहा कि आज जिन हाई टेक टेस्टिंग फेसिलिटी का लॉन्च हुआ है, उससे पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश को कोरोना के खिलाफ लड़ाई में और ताकत मिलने वाली है। दिल्ली- एनसीआर, मुंबई और कोलकाता, आर्थिक गतिविधियों के बड़े सेंटर हैं। यहां देश के लाखों युवा अपने करियर को, अपने सपनों को पूरा करने आते हैं। अब इन तीनों जगह टेस्ट की जो उपलब्ध कैपेसिटी है, उसमें 10 हजार टेस्ट की कैपेसिटी और जुड़ने जा रही है। प्रधानमंत्री मोदी ने बताया कि एक अच्छी बात ये भी है कि ये हाईटेक लैब्स सिर्फ कोरोना टेस्टिंग तक ही सीमित रहने वाली नहीं हैं। भविष्य में, हेपेटाइटिस बी और सी, एचआईवी, डेंगू सहित अनेक बीमारियों की टेस्टिंग के लिए भी इन लैब्स में सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। Thank You, Like our Facebook Page - @24GhanteUpdate 24 Ghante Online | Latest Hindi News-24ghanteonline.com