लखीमपुर खीरी हिंसा एक साजिश, विदेशी ताकतों का षडयंत्र : भाजपा सांसद

 लखीमपुर खीरी हिंसा एक साजिश, विदेशी ताकतों का षडयंत्र : भाजपा सांसद
lakhimpur-kheri-violence-a-conspiracy-a-conspiracy-by-foreign-forces-bjp-mp

नई दिल्ली, 4 अक्टूबर (आईएएनएस)। लखीमपुर खीरी में मारे गए लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए भाजपा ने इस पूरी घटना को एक बड़ी साजिश का हिस्सा बताते हुए आरोप लगाया है कि किसान आंदोलन में हिंसक तत्व घुस आए हैं। आईएएनएस से बातचीत करते हुए भाजपा किसान मोर्चा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद विजयपाल सिंह तोमर ने हिंसा में विदेशी ताकतों के हाथ होने का आरोप लगाते हुए यह दावा किया कि लखीमपुर खीरी में जो कुछ भी हुआ वह एक बड़ी साजिश का हिस्सा है और इसकी उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए। आईएएनएस से बातचीत करते हुए किसान नेता और भाजपा राज्यसभा सांसद ने कहा कि इस देश में आजादी से पहले और आजादी के बाद भी , सरदार पटेल से लेकर शरद जोशी और महेंद्र सिंह टिकैत तक किसानों के कई आंदोलन हुए हैं। वे स्वयं कई बार किसानों के मुद्दें पर आंदोलन कर चुके हैं और जेल भी जा चुके हैं लेकिन कभी भी किसी भी किसान आंदोलन में किसी के मौलिक अधिकारों में कोई हस्तक्षेप नहीं किया गया। यह कैसा किसान आंदोलन है कि आप लोगों को सभा नहीं करने देंगे, हेलीकॉप्टर नहीं उतरने देंगे। भाजपा नेता ने किसान आंदोलन में हिंसक तत्वों के घुस आने का आरोप लगाते हुए कहा कि लालकिला में भी इन्ही हिंसक तत्वों ने हिंसा की थी और लखीमपुर में भी। उन्होंने कहा कि लखीमपुर में भिंडरावाले की टीशर्ट पहने लोग नजर आए, इसकी भी जांच होनी चाहिए और सच सामने आना चाहिए। लखीमपुर हिंसा में मारे गए सभी लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए भाजपा नेता ने कहा कि विपक्ष इस पूरे मामले में राजनीति कर रहा है और अनर्गल आरोप लगा रहा है । विपक्षी नेताओं पर किसानों के नाम पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए विजयपाल सिंह तोमर ने कहा कि जांच तो होने दीजिए, सच सामने आ जायेगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी दोषियों को कड़ी सजा दिलाने की बात कह चुके हैं। सीएम योगी को लिखे वरुण गांधी के पत्र पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा राज्यसभा सांसद ने कहा कि जांच से पहले ही हत्या कह देना सही नहीं है। पहले जांच तो होने दीजिए, सही तथ्य तो सामने आने दीजिए। जहां तक सीबीआई जांच की मांग का सवाल है ,प्रदेश सरकार उच्चस्तरीय जांच करवा रही है और अगर जरूरत पड़ी तो सीबीआई जांच भी करवाई जाएगी। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा पर विरोधी दलों द्वारा किए जा रहे हमलों को लेकर भाजपा किसान मोर्चा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि केंद्रीय मंत्री अपनी और अपने बेटे की स्थिति साफ कर चुके हैं कि उनका बेटा उस समय गांव में था। वीडियो सबूत की बात भी कही जा रही है। विरोधी दलों पर किसानों के नाम पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए भाजपा सांसद ने कहा कि जांच होने दीजिए , जांच में सच निकल कर सामने आएगा और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। --आईएएनएस एसटीपी/आरजेएस

अन्य खबरें

No stories found.