केजरीवाल ने प्रधानमंत्री-मुख्यमंत्री बैठक का किया राजनीतिकरण : सूत्र

केजरीवाल ने प्रधानमंत्री-मुख्यमंत्री बैठक का किया राजनीतिकरण : सूत्र
kejriwal-politicizes-pm-cm-meeting-sources

नई दिल्ली, 23 अप्रैल (हि.स.)। केन्द्र सरकार दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के कोविड मुद्दे पर आयोजित प्रधानमंत्री-मुख्यमंत्री संवाद में अपने वक्तव्य को सीधे प्रसारित करने को लेकर नाराज है। सरकार का कहना है कि मुख्यमंत्री ने आधिकारिक संवाद का इस्तेमाल राजनीति करने के लिए किया है। केंद्र का कहना है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने विश्वास तोड़ा है और प्रधानमंत्री-मुख्यमंत्री संवाद का राजनीतिकरण किया है। अन्य मुख्यमंत्री जहां प्रधानमंत्री को अपने यहां किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दे रहे थे, वहीं मुख्यमंत्री केजरीवाल एक राजनीतिक वक्तव्य दे रहे थे। यह भी बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों की साथ हुई बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के अपने वक्तव्य को सीधे प्रसारित करने पर नाराजगी व्यक्त की है। प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्हें पता होना चाहिए कि इस तरह की आपसी चर्चा को सार्वजनिक नहीं किया जाता। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री के साथ बैठक में एक तरफ वैक्सीन की केन्द्र और राज्यों को अलग-अलग कीमतों का मुद्दा उठाया था। साथ ही उन्होंने ऑक्सीजन कमी का मुद्दा उठाया और कहा कि उन्हें नहीं पता की किससे बात की जाए जिससे समाधान मिले। सरकारी अधिकारी का कहना है कि केन्द्र सरकार वैक्सीन खरीदकर अपने पास नहीं रखती है। वह यह वैक्सीन आगे राज्यों को ही देती है ऐसे में अलग-अलग कीमतों पर सवाल उठाना सही नहीं है। सूत्रों का कहना है कि दिल्ली को होने वाला प्रतिदिन ऑक्सीजन आवंटन 378 मीट्रिक टन से 480 मीट्रिक टन बढ़ाया गया है। आवंटित ऑक्सीजन की आपूर्ति की गतिविधियों पर लगातार नजर रखी जा रही है। टैंकरों के ठहराव आदि में आने वाले मुद्दों को तुरंत हल किया जा रहा है। साथ ही दिल्ली में ऑक्सीजन और आईसीयू बिस्तरों की संख्या को लगातार बढ़ाया जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार/अनूप