14 लाख से अधिक कुपोषित छात्रों को अंडे, केले उपलब्ध कराएगी कर्नाटक सरकार

 14 लाख से अधिक कुपोषित छात्रों को अंडे, केले उपलब्ध कराएगी कर्नाटक सरकार
karnataka-government-to-provide-eggs-bananas-to-over-14-lakh-malnourished-students

बेंगलुरु, 25 नवंबर (आईएएनएस)। कर्नाटक सरकार ने कुपोषण, एनीमिया और प्रोटीन की कमी से पीड़ित छह से 15 साल की उम्र के सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में पढ़ने वाले स्कूली बच्चों को उबले अंडे और केले उपलब्ध कराने का फैसला किया है। कार्यक्रम की शुरूआत एक दिसंबर से होगी। लोक शिक्षण विभाग ने बुधवार को इस संबंध में सकरुलर जारी किया है। छह उत्तरी कर्नाटक जिलों के छात्रों को कार्यक्रम के तहत लाभ मिलेगा क्योंकि वे कमी के चार्ट में शीर्ष पर हैं। बीदर, रायचूर, कालाबुरागी, यादगीर, कोप्पल, बल्लारी, विजयपुर और धारवाड़ में पहली से आठवीं कक्षा में पढ़ने वाले 14,44,322 छात्र लाभान्वित होंगे। दिसंबर से शुरू होने वाला यह कार्यक्रम मार्च 2022 तक जारी रहेगा। अंडे नहीं खाने वालों को केला दिया जाएगा। प्रत्येक छात्र को चार महीने तक प्रति माह 10 अंडे/केले मिलेंगे। यादगीर जिले में 74 प्रतिशत छात्र कुपोषण और एनीमिया से पीड़ित हैं। इस बीच, कालाबुरागी में 72.4 फीसदी, बल्लारी में 72.3 फीसदी, कोप्पल में 70.7 फीसदी, रायचूर में 70.6 फीसदी, बीदर में 69.1 फीसदी और वायापुरा में 68 फीसदी छात्र कुपोषित पाए गए। --आईएएनएस एसकेके

अन्य खबरें

No stories found.