मंत्रिपरिषद की बैठक में कमल रानी वरुण को श्रद्धांजलि की गई अर्पित
मंत्रिपरिषद की बैठक में कमल रानी वरुण को श्रद्धांजलि की गई अर्पित
देश

मंत्रिपरिषद की बैठक में कमल रानी वरुण को श्रद्धांजलि की गई अर्पित

news

-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट कर जताया शोक संजय सिंह लखनऊ, 02 अगस्त (हि.स.)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में रविवार को यहां सम्पन्न मंत्रिपरिषद की बैठक में प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण के आकस्मिक निधन पर शोक प्रस्ताव पारित किया गया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी कमल रानी वरुण के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त की है। पारित प्रस्ताव में श्रीमती वरुण के निधन पर गहरा दुःख प्रकट करते हुए मंत्रिपरिषद की ओर से उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। मंत्रिपरिषद द्वारा दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करने तथा उनके शोक संतप्त परिजनों को इस दुःखद अवसर पर संबल एवं शक्ति प्रदान करने की कामना भी की गयी। पारित प्रस्ताव में कहा गया कि श्रीमती वरुण ने एक मंत्री के रूप में विभागीय कार्यां के कुशलतापूर्वक निर्वहन में सराहनीय योगदान दिया। एक जनप्रतिनिधि के रूप में उन्होंने जन आकांक्षाओं का सदैव सम्मान रखा। उनका निधन समाज व सरकार के लिए अपूरणीय क्षति है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी कमल रानी वरुण के निधन पर ट्वीट कर शोक जताया। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार की मंत्री कमला रानी वरुण जी के निधन से बहुत दुख हुआ। उनका पूरा जीवन समाजसेवा के प्रति समर्पित रहा। उन्होंने राज्य में भाजपा को मजबूत बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिजनों और समर्थकों के साथ हैं।ओम शांति! बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो व प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने अपने ट्वीट में कहा कि उत्तर प्रदेश की प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी की कोरोना संक्रमण से आज हुई मौत की खबर अति-दुःखद व काफी चिन्ताजनक भी। इस दुःखद मौत को देखते हुए केन्द्र व राज्य सरकार दोनों को ही यूपी में कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप की रोकथाम आदि के मामले में अति-गंभीर होने की जरूरत है। वहीं समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि कोरोना से पीड़ित उप्र की प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण जी के निधन पर भावभीनी श्रद्धांजलि एवं शोकाकुल परिवार के प्रति गहरी संवेदना। प्रदेश के व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) कपिल देव अग्रवाल, ग्रामीण विकास मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह ‘मोती सिंह’, पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांगजन सशक्तिकरण मंत्री अनिल राजभर सहित कई मंत्रियों ने उनके निधन पर संवेदना व्यक्त की है। उल्लेखनीय है कि आज प्रातः कमल रानी वरुण का एसजीपीजीआई में इलाज के दौरान आकस्मिक निधन हो गया। वे घाटमपुर, कानपुर नगर से विधायक थीं। इससे पूर्व श्रीमती वरुण 11वीं व 12वीं लोक सभा की सदस्य थीं। हिन्दुस्थान समाचार-hindusthansamachar.in