जामिया के छात्रों का बिहार पीएससी में बजा डंका, 16 का हुआ चयन

जामिया के छात्रों का बिहार पीएससी में बजा डंका, 16 का हुआ चयन
jamia-students-played-in-bihar-psc-16-were-selected

नई दिल्ली, 08 जून (हि.स.)। जामिया मिल्लिया इस्लामिया की आवासीय कोचिंग अकादमी (आरसीए) में कोचिंग और प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले 16 छात्रों ने बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) की 64वीं संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा (सीसीई) पास की है। इनमें 6 लड़कियां भी शामिल हैं। जामिया की कुलपति प्रो. नजमा अख्तर ने सफल उम्मीदवारों और जामिया बिरादरी को इस कामियाबी पर बधाई दी है। उन्होंने कहा कि वर्तमान कोविड-19 महामारी के कारण कई कठिनाइयों का सामना करने के बावजूद जामिया की आरसीए ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है। उनका कहना है कि यह विश्वविद्यालय के लिए बहुत सम्मान की बात है कि महामारी के दौर में भी आरसीए इतने सारे सिविल सेवकों को तैयार कर सका है। यह विभिन्न संस्थानों द्वारा संचालित सभी सार्वजनिक कोचिंग केंद्रों के मुकाबले में संख्या में सबसे अधिक है और हम उम्मीद करते हैं कि भविष्य में इसमें और भी सुधार होगा। बता दें कि चयनित छात्रों को बिहार में एसडीएम, डीएसपी, राजस्व अधिकारी, वाणिज्यिक कर अधिकारी, जिला लेखा परीक्षा अधिकारी, सहायक निदेशक समाज कल्याण विभाग आदि के रूप में नियुक्त किया जाएगा। 63 वीं बीपीएससी संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा (सीसीई) में आरसीए जामिया के 12 छात्रों का पिछले साल भी चयन हुआ था। हाल ही में आरसीए जामिया के 4 छात्रों को उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) के लिए चुना गया था, जिसमें संचिता शर्मा भी शामिल थीं। उन्होंने पहला स्थान हासिल किया था। गौरतलब है कि आरसीए, जेएमआई के 43 छात्रों ने यूपीएससी- सिविल सर्विसेज मेन्स परीक्षा -2020 को पास किया है। ये छात्र अब साक्षात्कार/व्यक्तित्व परीक्षण में शामिल होंगे, जिसके जुलाई या अगस्त, 2021 में आयोजित होने की उम्मीद है। हिन्दुस्थान समाचार/एम ओवैस