क्या यही है 'सुशासन': रणदीप सुरजेवाला

क्या यही है 'सुशासन': रणदीप सुरजेवाला
is-this-39good-governance39-randeep-surjewala

नई दिल्ली, 24 मार्च (हि.स.)। बिहार विधानसभा में सरकार से सवाल करने और उनकी नीतियों का विरोध करने पर विपक्ष के विधायकों के साथ मारपीट और बदसलूकी की कांग्रेस पार्टी ने तीखी आलोचना की है। कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने बुधवार को कहा कि बिहार विधानसभा की गुंडई देखकर देश और सविंधान के सुरक्षित होने पर संदेह है।उन्होंने सवालिया आंदाज में कहा कि क्या क्या यही है- सुशासन? कांग्रेस महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने बयान जारी कर कहा कि जनता दल यूनाइटेड (जदयू) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मंगलवार को बिहार विधानसभा में जो किया, वह शायद 73 साल में कभी नहीं हुआ। प्रजातंत्र की मंदिर विधानसभा के अंदर विधायकों को लात और घुसे से पुलिस द्वारा पिटवाया गया। विधायकों पर पत्थरबाजी हुई। महिला विधायकों को घसीटा गया। विधायकों को मार-मारकर अधमरा कर दिया गया। ऐसा सिर्फ इसलिए, क्योंकि वे बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस बिल का विरोध कर रहे थे। सुरजेवाला ने कहा कि "प्रजातंत्र की हत्या हुई है। क्या विधायकों को विधानसभा में थप्पड़-घूंसों से जानवरों की तरह पिटवाना संसदीय परम्परा है? क्या यही जद(यू)-भाजपा का असली चेहरा है?’ उन्होंने कहा कि चुने हुए विधायकों के अधिकारों का ऐसे हनन और अपमान होगा तो संविधान नहीं बच पाएगा। एक अन्य ट्वीट में सुरजेवाला ने विधायकों के साथ बदसलूकी वाली तस्वीर साझा करते हुए लिखा, ‘प्यारे देशवासियों, ये फोटो देखकर जरूर चौंकिए, अपनी आत्मा के अंदर झांकिए, मन के दरवाजे खोल सोचिए, क्या ये है मोदी जी-नीतीश बाबू का “कोपरेटिव फेडरलिजम”? अगर बिहार विधानसभा में ये गुंडई हो रही है तो क्या देश और सविंधान सुरक्षित है? क्या ये है सुशासन?’ इस दौरान उन्होंने जनता से अपील करते हुए कहा कि आज हर एक नागरिक की जिम्मेदारी है वो इस गुंडागर्दी के खिलाफ आवाज उठाए, जो भाजपा और उसके मित्र दल बिहार और पूरे देश में फैला रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार/आकाश

अन्य खबरें

No stories found.