गोवा में ऑक्सीजन की किल्लत जांच समिति के प्रमुख बने आईआईटी निदेशक

 गोवा में ऑक्सीजन की किल्लत जांच समिति के प्रमुख बने आईआईटी निदेशक
iit-director-becomes-head-of-oxygen-shortage-probe-committee-in-goa

पणजी, 13 मई (आईएएनएस)। गोवा सरकार ने गुरुवार को राज्य के शीर्ष अस्पताल, गोवा मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की आपूर्ति श्रृंखला को सुव्यवस्थित करने के लिए एक विशेषज्ञ समिति गठित की। इस अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के कारण तीन दिनों में लगभग 50 व्यक्तियों की मौत हो गई। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान-गोवा के निदेशक डॉ. बी.के. मिश्रा की अध्यक्षता वाली समिति को जीएमसी को ऑक्सीजन की आपूर्ति की पर्याप्तता और ऑक्सीजन आपूर्ति श्रृंखला की दक्षता का पता लगाने, जीएमसी में ऑक्सीजन के प्रशासन की प्रक्रिया की जांच करने और इसके सुधार के लिए सिफारिश देने और जीएमसी में ऑक्सीजन वितरण की पूरी श्रृंखला में सुधार की सिफारिश करने का काम सौंपा गया है। जीएमसी के पूर्व डीन, डॉ. वी.एन. जिंदल और शहरी विकास सचिव डॉ. तारिक थॉमस, समिति के सदस्य हैं। राजस्व सचिव संजय कुमार द्वारा जारी एक आदेश में कहा गया है, समिति को अगले तीन दिनों के भीतर कार्य पूरा करने के लिए कहा गया है और स्वास्थ्य सचिव को भी निर्देश दिया गया है कि वह समिति को समय पर कार्य पूरा करने में जरूरी मदद दें। बॉम्बे हाईकोर्ट भी जनहित याचिकाओं के एक समूह पर सुनवाई कर रहा है, जिसमें राज्य सरकार पर कोविड संकट से निबटने के लिए उचित व्यवस्था न करने का आरोप लगाया गया है। खासकर, गोवा मेडिकल कॉलेज में, जहां पिछले तीन दिनों में दर्जनों कोविड रोगियों की मौत हो गई। --आईएएनएस एसजीके/एएनएम

अन्य खबरें

No stories found.