जामिया मिलिया इस्लामिया में शुरू हुई हिंदी विभाग की पत्रिका

 जामिया मिलिया इस्लामिया में शुरू हुई हिंदी विभाग की पत्रिका
hindi-department-magazine-started-in-jamia-millia-islamia

दिल्ली, 7 सितंबर (आईएएनएस) । जामिया मिलिया इस्लामिया में मंगलवार को हिंदी विभाग द्वारा त्रैमासिक पत्रिका मुजीब शुरू की गई। इस पत्रिका की संरक्षक स्वयं जामिया की कुलपति प्रोफेसर नजमा अख्तर हैं। हिंदी विभाग के पहले प्रोफेसर एवं अध्यक्ष प्रोफेसर मुजीब रिजवी के नाम पर पत्रिका का नाम रखा गया है। इस खास कार्यक्रम में प्रोफेसर मुजीब रिजवी का परिवार भी शामिल हुआ। कार्यक्रम का प्रारंभ हिंदी विभागाध्यक्ष प्रोफेसर इंदु वीरेंद्रा द्वारा अतिथियों के स्वागत से हुआ। उन्होंने विभाग की स्वर्णिम यात्रा की एक संक्षिप्त रिपोर्ट प्रस्तुत की। पत्रिका की संरक्षक जामिया की कुलपति प्रोफेसर नजमा अख्तर का धन्यवाद करते हुए उन्होंने बताया कि हिंदी विभाग के पहले प्रोफेसर एवं अध्यक्ष प्रोफेसर मुजीब रिजवी के नाम पर पत्रिका का नाम रखा गया है। लोकार्पण कार्यक्रम की अध्यक्षता जामिया के कुलसचिव डॉक्टर नाजिम हुसैन जाफरी ने की। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में पद्मश्री प्रोफेसर अख्तरुल वासे शामिल रहे। विशिष्ट अतिथि के रूप में मानविकी एवं भाषा संकाय के अध्यक्ष प्रोफेसर मोहम्मद असदुद्दीन उपस्थित रहे। लोकार्पण कार्यक्रम में हिंदी विभाग के साथ साथ जामिया मिलिया इस्लामिया के कई विभागों के प्राध्यापकों और शोधार्थियों ने हिस्सा लिया। अतिथियों द्वारा पत्रिका के लोकार्पण के बाद जामिया के कुलसचिव डॉक्टर नाजिम हुसैन जाफरी ने हिंदी विभाग की सराहना की और पत्रिका और विभाग के लिए अपनी शुभकामनाएं दी। इस दौरान पद्मश्री प्रोफेसर अख्तरुल वासे ने पत्रिका के लोकार्पण के साथ विभागीय गतिविधियों की सफलता की कामना की। उन्होंने प्रोफेसर मुजीब रिजवी को याद करते हुए उनकी स्मृति में प्रकाशित पत्रिका मुजीब को उनकी विरासत के लिए आवश्यक माना। संकायाध्यक्ष प्रोफेसर मोहम्मद असदुद्दीन ने पत्रिका के प्रकाशन और लोकार्पण के लिए हिंदी विभाग को बधाई देते हुए पत्रिका के भविष्य के लिए महत्वपूर्ण सुझाव दिए। हिंदी विभाग के वरिष्ठ प्रोफेसर दुर्गाप्रसाद गुप्ता और संस्कृत विभागाध्यक्ष प्रोफेसर जय प्रकाश नारायण ने भी पत्रिका के लिए विभाग को शुभकामनाएं दी। --आईएएनएस जीसीबी/एएनएम

अन्य खबरें

No stories found.