हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड 11 साल बाद लेगा आठवीं की परीक्षा
हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड 11 साल बाद लेगा आठवीं की परीक्षा
देश

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड 11 साल बाद लेगा आठवीं की परीक्षा

news

भिवानी : प्रदेश सरकार के फैसले के बाद अब हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड भिवानी 11 साल बाद फिर से आठवीं की परीक्षा लेगा। शिक्षा बोर्ड सचिव राजीव प्रसाद की माने तो आठवीं की परीक्षा उनके लिए चुनौती व अवसर दोनों हैं, जिसकी सभी तैयारी की जा रही हैं। साथ ही सचिव का दावा है कि 8वीं की बोर्ड परीक्षा के बाद शिक्षा के स्तर व 10वीं-12वीं की परीक्षाओं के परिणाम में भी सुधार होगा। 2010 में आरटीई कानून लागू हो गया था। इसके बाद नो डिटेंशन पॉलिसी के तहत 8वीं तक किसी भी बच्चे को फेल ना करने का नियम बना था। इसके बाद हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने भी आठवीं की परीक्षा लेना बंद कर दिया था। बता दें कि शिक्षा बोर्ड भिवानी ने अंतिम बार साल 2010 के मार्च माह में आठवीं की परीक्षा ली थी, जिसमें 3 लाख 67 हजार 247 बच्चों ने ये परीक्षा दी थी और इसमें 3 लाख 44 हजार 198 बच्चे पास हुए थे। शिक्षा बोर्ड सचिव राजीव प्रसाद ने बताया कि अब शिक्षा बोर्ड के प्रस्ताव पर मुहर लगाते हुए प्रदेश सरकार ने आठवीं की परीक्षा शिक्षा बोर्ड द्वारा इसी सत्र यानि मार्च-2021 में आयोजित करवाने का फैसला लिया है। बोर्ड सचिव ने बताया कि आरटीई के बाद नो डिटेंशन पॉलिसी के तहत साल 2010 में आठवीं की परीक्षाएं बोर्ड द्वारा न करवाने का फैसला हुआ था। उन्होंने बताया कि पिछले 4-5 सालों में शिक्षा विभाग में बड़ा बदलाव और सुधार हुआ है। जिससे 10वीं व 12वीं के परिणाम काफी सुधर रहे हैं। शिक्षा बोर्ड सचिव ने बताया कि शिक्षा बोर्ड की परीक्षा का न केवल अध्यापकों, बल्कि बच्चों में भी साइकोलॉजिकल इफैक्ट होता है।-newsindialive.in