haridwar-will-be-able-to-join-prime-minister-modi39s-vision-with-39skill-india-pavilion39-pokhriyal
haridwar-will-be-able-to-join-prime-minister-modi39s-vision-with-39skill-india-pavilion39-pokhriyal
देश

‘स्किल इंडिया पवेलियन’ से प्रधानमंत्री मोदी के विजन से जुड़ सकेगा हरिद्वार : पोखरियाल

news

नई दिल्ली, 12 अप्रैल (हि.स.)। केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने सोमवार को हरिद्वार महाकुंभ में कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय द्वारा बनाए गए ‘स्किल इंडिया पैवेलियन’ का उद्घाटन करते हुए कहा कि इसके माध्यम से हरिद्वार खुद को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विज़न से जोड़ सकेगा। केंद्रीय मंत्री पोखरियाल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा, “इस आस्था के उत्सव में स्किल इंडिया पवेलियन लगाना बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि यह स्किल इंडिया मिशन को एक नई गति प्रदान करेगा। उत्तराखंड के लोगों के कौशल को और बढ़ाने के लिए मैं विशेष रूप से इस दिन और महाकुंभ को युवाओं के कौशल को समर्पित करता हूं।” निशंक ने कहा कि यह पवेलियन हमारे प्रधानमंत्री मोदी के विजन के अनुरूप है। उनका मानना है कि प्रासंगिक बने रहने के लिए ‘स्किलिंग’, ‘री-स्किलिंग’ और ‘अप-स्किलिंग’ बेहद ज़रूरी है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी की चुनौतियों के बावजूद महाकुंभ का सफलतापूर्वक आयोजन करवाना हमारे साथियों का कौशल दर्शाता है। केंद्र सरकार ने महाकुंभ को भव्य बनाने के लिए 700 करोड़ रुपये की धनराशि भी दी है इसमें नमामि गंगे परियोजना के अंतर्गत सफाई व्यवस्था के लिए 58 करोड़ रुपए भी उपलब्ध कराए गए हैं। इस कार्यक्रम में कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्री डॉ. महेन्द्र नाथ पांडेय, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत, हरिद्वार के विधायक एवं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ मदन कौशिक, राष्ट्रीय कौशल विकास निगम के एमडी और सीईओ डॉ मनीष कुमार एवं अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे। हिन्दुस्थान समाचार/सुशील