Gyan Ganga: गीता में कहा गया है- संसार रूपी वृक्ष में परमात्मा ही प्रधान हैं

Gyan Ganga: गीता में कहा गया है- संसार रूपी वृक्ष में परमात्मा ही प्रधान हैं
Gyan-Ganga-गीता-में-कहा-गया-है--संसार-रूपी-वृक्ष-में-परमात्मा-ही-प्रधान-हैं

जिंदगी का सबसे लंबा सफर एक मन से दूसरे मन तक पहुँचना है और इसी में सबसे ज्यादा वक्त लगता है। गीता उपदेश के बाद ही अर्जुन का भी मन पूरी तरह से भगवान के मन तक पहुँच पाया था। पिछले अंक में भगवान ने अर्जुन को गुणातीत व्यक्ति के क्लिक »-www.prabhasakshi.com