गुजरात : कक्षा 10 के अंकपत्र तैयार करने की जिम्मेदारी स्कूलों को मिली

गुजरात : कक्षा 10 के अंकपत्र तैयार करने की जिम्मेदारी स्कूलों को मिली
gujarat-schools-got-the-responsibility-of-preparing-class-10-marksheets

- स्कूलों पर निगरानी रखने के लिए कुछ पर्यवेक्षकों की नियुक्ति करेगा बोर्ड -17 जून तक छात्रों के परिणाम तैयार कर ऑनलाइन अपलोड करेंगे स्कूल गांधीनगर/अहमदाबाद,11 जून (हि.स.)। राज्य सरकार ने कक्षा 10 के 8.50 लाख से अधिक छात्रों को सामूहिक कक्षोन्नति देने का ऐलान किया था। सरकार ने इन छात्रों के परिणाम तैयार करने के लिए स्कूलों को जिम्मेदारी सौंपी है। परीक्षा परिणाम में स्कूल की मनमानी और अनियमितताओं की जांच के लिए बोर्ड पर्यवेक्षकों की भी नियुक्त करेगा। राज्य सरकार ने तय किया है कि 10वीं बोर्ड परीक्षा के परिणाम छात्र के कक्षा 9 और कक्षा 10 के आवधिक परीक्षण और अन्य परीक्षाओं के परिणाम के आधार पर स्कूल तैयार करेगा। सभी स्कूल 17 जून तक अंकपत्र तैयार कर बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड कर देंगे। बाद में बोर्ड एक निश्चित मार्कशीट तैयार कर छात्रों का परिणाम घोषित करेगा। बताया गया है कि कुछ स्कूलों के ऑनलाइन अंक अपलोड करने की प्रक्रिया पूरी होने वाली है। बताया गया कि अंकपत्र को लेकर अभिभावकों के मन में स्कूलों की भूमिका को लेकर शंकाएं हैं। ऐसे में शिक्षा विभाग ने स्पष्ट किया है कि परिणाम की जांच के लिए पर्यवेक्षकों की भी नियुक्ति की गई है। इस संबंध में अहमदाबाद के सहायक जिला शिक्षा अधिकारी भरतसिंह गोहिल ने बताया कि कोई भी स्कूल अनियमित रूप से अंक नहीं दे सकता है। स्कूलों के परिणामों की निगरानी के लिए बोर्ड कुछ पर्यवेक्षकों की नियुक्ति करेगा। स्कूल की ओर से किसी भी तरह की गड़बड़ी पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी। अगर कोई शिकायत मिलती है तो जांच करके कार्रवाई की जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार/हर्ष शाह