पायलट खेमे पर गहलोत का तंज- राजस्थान में हॉर्स ट्रेडिंग के रेट बढ़ गए हैं; पता नहीं किस-किस ने पहली किश्त ले ली है
पायलट खेमे पर गहलोत का तंज- राजस्थान में हॉर्स ट्रेडिंग के रेट बढ़ गए हैं; पता नहीं किस-किस ने पहली किश्त ले ली है
देश

पायलट खेमे पर गहलोत का तंज- राजस्थान में हॉर्स ट्रेडिंग के रेट बढ़ गए हैं; पता नहीं किस-किस ने पहली किश्त ले ली है

news

14 अगस्त को विधानसभा सत्र की तारीख तय होने के बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने विधायकों को होटल में ही ठहरने के निर्देश दिए हैं। सत्र शुरू होने तक केवल मंत्री ही होटल के बाहर कामकाज निपटाने के लिए सचिवालय जा सकेंगे। विधायकों से मिलकर गहलोत होटल के बाहर निकले तो उनके तेवर मिले-जुले थे। आरोप लगाया कि राजस्थान में हॉर्स ट्रेडिंग के पुराने रेट तो छोड़िए, नए रेट आ गए हैं। और, पता नहीं किस-किस ने पहली किश्त भी ले ली है। फिर कहा कि फ्लोर टेस्ट को तैयार हैं। सत्र शुरू होने पर वो विधायक भी आएं, जो नाराज हैं। गहलोत ने कहा कि ऐसा इसलिए क्योंकि वो कांग्रेस के चुनाव चिह्न पर चुनाव जीते हैं। ऐसे में जनता के सामने वो सरकार के साथ खड़े दिखाई दें, यह निश्चित करना मेरी जिम्मेदारी है। मायावती और भाजपा पर गहलोत के आरोप भाजपा को जनता माफी नहीं करेगी। राजस्थान भाजपा के लोग छिप-छिप कर दिल्ली जाते हैं। रात को जाते हैं। सुबह आकर कहते हैं, हम यहीं हैं। हम भी एक्सपोज करेंगे। छोड़ने वाले नहीं हैं।फ्लोर टेस्ट होगा। असेंबली में जाएगा। पीएम को मैंने पूरी जानकारी दी है। भाजपा गेम खेल रही है। सरकारें गिराने पर लगे हुए हैं। हम पटरी पर लाने की कोशिश कर रहे हैं। इनको कोई परवाह नहीं है। मजबूरी में हमारे एमएलए यहां बैठे हैं। सब कोरोना के खिलाफ मिलकर लड़ें। बस मिलकर लड़ेंगे तभी कोरोना से जीतेंगे। मायावती जो बयानबाजी कर रही हैं, वह भाजपा के इशारे पर कर रही हैं। भाजपा सीबीआई, ईडी के नाम पर डरा रही है। मायावती भी उनसे डर रही हैं। मजबूरी में वह ऐसा बयान दे रही हैं। बीजेपी फासिस्ट पार्टी है। वह लोकतांत्रिक पार्टी नहीं है। मीडिया डरा है। अपडेट्स राज्यपाल कलराज मिश्र ने विधानसभा सत्र बुलाने के लिए स्पीकर को वारंट भेज दिया है। अब 14 अगस्त से सत्र का नोटिफिकेशन विधानसभा से जारी कर दिया जाएगा। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा है कि विधानसभा सत्र के लिए पार्टी की स्ट्रैटजी विधायक दल की बैठक में तय की जाएगी। अपने विधायकों से संपर्क में हैं। 14 अगस्त अभी दूर है, तब तक कांग्रेस तय कर ले कि सरकार बाड़ेबंदी से बाहर कब आएगी? सदन में अविश्वास प्रस्ताव लाने के सवाल पर पूनिया ने कहा कि हालात को देखते हुए फैसला लेंगे। बसपा विधायकों के मुद्दे पर कहा कि कोर्ट पर भरोसा है। बसपा स्पीकर से बागियों के खिलाफ कार्रवाई की अपील करेगी बसपा अपने 6 विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने के खिलाफ आज विधानसभा स्पीकर सीपी जोशी के पास अर्जी लगाएगी। पार्टी मांग करेगी कि उसके विधायकों की सदस्यता खत्म की जाए। बसपा ने बुधवार को हाईकोर्ट में भी पिटीशन फाइल की थी। इस मामले में भाजपा विधायक मदन दिलावर भी फिर से हाईकोर्ट पहुंचे हैं। दोनों की याचिकाओं पर बुधवार को करीब 1 घंटे सुनवाई हुई थी। कोर्ट ने बसपा से पूछा कि आपके विधायक 16 सितंबर 2019 को कांग्रेस में शामिल हो गए थे, तो इतने समय बाद अब क्यों चैलेंज कर रहे हैं? अदालत ने दिलावर से सवाल किया कि बताएं आपकी पिटीशन में क्या मेरिट है? यह सवाल इसलिए था, क्योंकि सोमवार को दिलावर की अर्जी खारिज हो गई थी। उन्होंने नए सिरे से याचिका लगाई है। बसपा विधायकों के मामले में सुनवाई जारी है। विधानसभा स्पीकर फिर सुप्रीम कोर्ट पहुंचे सचिन पायलट समेत 19 विधायकों की अयोग्यता के मामले में स्पीकर सीपी जोशी ने बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में नई याचिका लगाई। उन्होंने 24 जुलाई के राजस्थान हाईकोर्ट के आदेश को चुनौती दी है। हाईकोर्ट ने विधायकों की अयोग्यता के मामले में यथास्थिति रखने का अंतरिम आदेश दिया था।-newsindialive.in