पाकिस्तानी अखबारों सेः इमरान ने भारत की मिसाल देकर कोरोना के प्रति अपनी अवाम को डराया

पाकिस्तानी अखबारों सेः इमरान ने भारत की मिसाल देकर कोरोना के प्रति अपनी अवाम को डराया
from-pakistani-newspapers-imran-gave-an-example-of-india-and-intimidated-his-people-towards-corona

- कश्मीर में सुरक्षाबलों की कारवाई और हुर्रियत नेता अशरफ सहराई की तदफीन की खबरें भी छाईं - अयोध्या समेत उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनावों में भाजपा की हार ने बटोरी सुर्खियां नई दिल्ली, 07 मई (हि.स.)। पाकिस्तान से शुक्रवार को प्रकाशित अधिकांश अखबारों ने प्रधानमंत्री इमरान खान का एक बयान लीड स्टोरी के तौर पर छापा है जिसमें उन्होंने पाकिस्तानी नागरिकों को डराते हुए कहा है कि पड़ोसी देश भारत में कोरोना वायरस बेकाबू हो गया है। वहां पर लोग सड़कों पर दम तोड़ रहे हैं। आप लोग भी सुधर जाएं, मास्क पहनें, आपस में दूरी बना कर रखें और सैनेटाइजर का बार-बार इस्तेमाल करें। तभी हम पाकिस्तान को भारत जैसे हालात पैदा होने से बचा सकते हैं। विपक्षी दलों के नेताओं को आड़े हाथों लेते हुए इमरान खान ने कहा कि 30 साल पाकिस्तान पर हुकूमत करने वाले हिसाब नहीं दे रहे हैं। उनका कहना है कि अरबपति बनने वाले लोग पहले क्या थे, यह सभी जानते हैं। पीडीएम के नाम पर यूनियन बनी हुई है। सारे चोर पीडीएम की छतरी के नीचे जमा हो गए और इनका एकमात्र मकसद सरकार से एनआरओ प्राप्त करना है। आम लोगों के लिए कानून है, ताकतवर के लिए नहीं। अदालतें 50 बरस तक केस हल नहीं कर पाती हैं। अखबारों ने पाकिस्तान मुस्लिम लीग के लीडर शहबाज शरीफ के जरिए सियासत में सरगर्म होने की खबरें भी दी हैं। अखबारों का कहना है कि शहबाज शरीफ ने चीन और ब्रिटेन के राजदूतों से मुलाकात करके साफ तौर से इसका इशारा दे दिया है। अखबारों ने शहबाज शरीफ के जरिए लाहौर हाईकोर्ट में इलाज के लिए विदेश जाने की इजाजत मांगने से सम्बंधित याचिका दायर किए जाने की भी खबर दी है। अखबारों ने कराची के एक सीट पर हुए विधानसभा चुनाव में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी की जीत के बाद पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज सहित सभी राजनीतिक दलों ने धांधली का आरोप लगाया था। इसके बाद चुनाव आयोग ने दोबारा गिनती कराने का फैसला किया था। कल दोबारा गिनती शुरू होने के बाद सभी राजनीतिक दलों ने गिनती का बहिष्कार करके वहां पर दोबारा चुनाव कराए जाने की मांग चुनाव आयोग से की है। अखबारों ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के जरिए आज से सऊदी अरब का तीन दिवसीय सरकारी दौरा शुरू किए जाने की खबरें भी दी हैं। अखबारों ने बताया है कि इस दौरे में वह एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल को साथ लेकर जा रहे हैं जिसमें विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी सहित कई मंत्री शामिल हैं। अखबारों ने नेपाल में भी कोरोना संक्रमितों की संख्या भारत की तरह बढ़ने की खबर दी है। अखबारों का कहना है कि प्रधानमंत्री ने दुनिया के देशों से मदद मांगी है। यह सभी खबरें रोजनामा नवाएवक्त, रोजनामा खबरें, रोजनामा पाकिस्तान, रोजनामा औसाफ और रोजनामा जंग ने अपने पहले पन्ने पर छापी हैं। रोजनामा नवाएवक्त ने जम्मू कश्मीर में 3 कश्मीरियों के मारे जाने और हुर्रियत नेता अशरफ सहराई को सुपुर्द-ए-खाक किए जाने, कश्मीर में हड़ताल के दौरान पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी किए जाने से सम्बंधित खबरें दी हैं। अखबार का कहना है कि कुपवाड़ा में सख्त सुरक्षा घेरे के बीच अशरफ सहराई को उनके गांव में घरवालों की मौजूदगी में दफन किया गया है। अखबार का कहना है कि हुर्रियत नेता शाहिदुल इस्लाम के बेटों की तिहाड़ जेल से रिहाई के लिए गृहमंत्री अमित शाह को खत लिखा गया है। अखबार का कहना है कि जिला शोपियां में तीन कश्मीरी नौजवानों को सुरक्षाबलों ने मार गिराया है। अखबार का कहना है कि पिछले 24 घंटों में मरने वाले कश्मीरी नौजवानों की संख्या पांच हो गई है। एक नौजवान तौसीफ अहमद को सुरक्षाबलों ने गिरफ्तार किया है। सुरक्षा बलों का कहना है कि मारे गए सभी कश्मीरी प्रतिबंधित कश्मीरी संगठनों से सम्बंध रखते थे। रोजनामा जंग ने एक खबर देते हुए बताया है कि भारत के अयोध्या में हुए पंचायत चुनाव में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी को बड़ी हार का सामना करना पड़ा है। अखबार का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पार्टी की यहां पर जबरदस्त हार हुई है। अखबार का कहना है कि राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पंचायत चुनाव में मिली हार से उन्हें मुंह की खानी पड़ी है। भाजपा को मिली इस हार से इसके नेताओं में चिंता पाई जा रही है। अखबार का कहना है कि उत्तर प्रदेश में भाजपा के पैर उखड़ते जा रहे हैं और पार्टी बुरी तरह से यहां पर हारती जा रही है। अखबार का कहना है कि अगले साल उत्तर प्रदेश में राज्य विधानसभा का चुनाव है। पंचायत चुनाव में पार्टी के हार ने यह सिद्ध कर दिया है कि राज्य में योगी सरकार का अंत होने वाला है। रोजनामा जंग ने भारत के राज्य पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के हवाले से एक खबर दी है। इस खबर में बताया गया है कि ममता बनर्जी ने कहा है कि भाजपा को राजनीतिक ऑक्सीजन की जरूरत है। उन्होंने लोगों का आह्वान किया है कि भाजपा को हराने के लिए एकजुट हो जाएं। ममता ने आरोप लगाया है कि भाजपा एक सांप्रदायिक पार्टी है, फर्जी वीडियो बनाकर सत्ता का दुरुपयोग करती है। अखबार का कहना है कि ममता ने कहा है कि बंगाल में मिली भाजपा को करारी हार से उसकी बौखलाहट साफ देखने को मिल रही है। ममता ने आरोप लगाया है कि भाडपा के कार्यकर्ता बंगाल में चुनाव हारने के बाद उपद्रव कर रहे हैं। ममता ने कहा है कि भाजपा के बुरे दिन आ गए हैं। अब समय आ गया है कि एकजुट होकर के देश की सत्ता से भी उन्हें बाहर फेंक देना चाहिए। हिन्दुस्थान समाचार/एम ओवैस/मोहम्मद शहजाद