चेन्नई से देश के छोटे शहरों में उड़ानें जारी

 चेन्नई से देश के छोटे शहरों में उड़ानें जारी
flights-continue-from-chennai-to-small-cities-of-the-country

चेन्नई, 29 अप्रैल (आईएएनएस)। कोविड महामारी के बीच चेन्नई से नई दिल्ली, मुंबई और बेंगलुरु के लिए उड़ान संचालन कम हो गया है, लेकिन देश के छोटे शहरों में चेन्नई से उड़ान सेवाएं अभी भी जारी है। इस फैसले से विमान यात्रियों को बड़ी राहत मिल रही है। राजस्थान के व्यवसायी पंकज दोशी ने आईएएनएस को बताया, मेरे गृह नगर, जोधपुर से कनेक्टिविटी एक बड़ी राहत है क्योंकि मैं यहां चेन्नई में फंस जाता अगर यह नहीं होता। मेरे शहर से दक्षिण भारत के लिए कुछ ट्रेनें हैं और यहां तक कि मुझे ट्रेन टिकट मिलने पर भी वहां पहुंचने में बहुत समय लगता है। उड़ानें सुरक्षित है, हालांकि मुझे अधिक किराया देना पड़ता है लेकिन मुझे खुशी है कि मैं घर पहुंच जाउंगा। नई दिल्ली और मुंबई में कोरोना के अधिक मामले होने के कारण बहुत कम यात्री इन शहरों में आते हैं। बेंगलुरु ने पहले ही तालाबंदी की घोषणा कर दी थी और इसलिए गार्डन सिटी के लिए कोई उड़ानें नहीं हैं। नई दिल्ली के एक शिक्षक उल्लास कुमार भारद्वाज ने कहा, नई दिल्ली के लिए कोई उड़ानें नहीं हैं और यहां तक कि अगर वहां उड़ानें होती हैं तो मैं यात्रा करने के लिए साहस नहीं करता क्योंकि मैं अपने परिवार के साथ यहां हूं और अब दिल्ली जाना सुरक्षित नहीं है, क्योंकि वहां लगाातार मामले बढ़ते जा रहे हैं और सभी को वहां बीमारी हो रही है। वाराणसी, जोधपुर, जयपुर, रांची और लखनऊ के लिए उड़ानें संचालित की जा रही हैं और किराया तुलनात्मक रूप से अधिक 5,000 रुपये से 7,500 रुपये के बीच है। इन शहरों में से ज्यादातर एक दिन में दो उड़ानें हैं लेकिन सभी उड़ानें फुल हैं और एयरलाइन कंपनियां भी इन क्षेत्रों में संचालित करने के निर्णय से संतुष्ट हैं। एक निजी एयरलाइन के एक वरिष्ठ अधिकारी बिंदू ने कहा, हमने इन छोटे शहरों में अपना संचालन जारी रखने का फैसला किया था, हमें यहां के क्षेत्र से अच्छे परिणाम मिल रहे हैं। यात्रा करने वाली आबादी ठीक है और इसलिए राजस्व हिस्सा भी है। चेन्नई हवाई अड्डे पर यात्रियों की संख्या में कमी आई है औप कोरोना की पहली लहर के बाद के दिनों में नियमित यातायात का केवल 50 प्रतिशत उपयोग किया गया था। --आईएएनएस एचके/आरजेएस