देशभर में व्यापारियों को मिले आर्थिक मदद : खंडेलवाल

देशभर में व्यापारियों को मिले आर्थिक मदद : खंडेलवाल
financial-help-to-traders-across-the-country-khandelwal

नई दिल्ली, 09 जून (हि.स.)। व्यापारियों को भी आर्थिक मदद मिले इसके लिए व्यापारिक संगठन लंबे समय से मांग कर रहे हैं। व्यापारियों का तर्क है कि लगभग दो महीने का लॉकडाउन झेलने के कारण वो आर्थिक रूप से टूट चुके हैं। व्यापारियों की मांग है कि उनके बिजली के बिल माफ हों और उन्हें कुछ आर्थिक मदद भी सरकार की ओर दिए जाएं। इसी क्रम में गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कोरोना महामारी से प्रभावित होटलों, रिसॉर्ट, रेस्तरां और वाटर पार्कों के बिजली बिलों पर फिक्स्ड शुल्क व संपत्ति कर को एक साल यानी 01 अप्रैल 2021 से 31 मार्च 2022 तक माफ कर दिया है। जिसका व्यापारिक संगठनों ने स्वागत किया है। कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने बुधवार को एक बयान जारी कर कहा कि गुजरात सरकार का यह कदम सराहनीय है। खंडेलवाल ने कहा कि उन्होंने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर उनसे अनुरोध किया है कि वो भाजपा शासित राज्यों से अनुरोध करें कि उन राज्यों में व्यापारियों के हितों को ध्यान में रखते हुए उनके बिजली के बिल माफ किए जाएं साथ ही उन्हें और जरूरी रियायतें दी जाएं। उल्लेखनीय है कि गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने हाल ही में एक वर्ष के लिए गुजरात में संपत्ति कर और बिजली बिलों पर फिक्स्ड शुल्क माफ करने की घोषणा की है। वहीं दिल्ली के व्यापारी लंबे समय से बिजली के बिल माफ करने की मांग कर रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार/आशुतोष