final-lead-prime-minister-gifts-several-development-projects-to-tamil-nadu-and-puducherry
final-lead-prime-minister-gifts-several-development-projects-to-tamil-nadu-and-puducherry
देश

(फाइनल लीड) प्रधानमंत्री ने तमिलनाडु और पुदुचेरी को दी कई विकास परियोजनाओं की सौगात

news

कोयंबटूर/नई दिल्ली, 25 फरवरी (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को तमिलनाडु और पुदुचेरी में विभिन्न विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। पिछले एक पखवाड़े के अंदर तमिलनाडु की अपनी दूसरी यात्रा में मोदी ने कोयंबटूर में निवेली ताप बिजली संयंत्र परियोजना राष्ट्र को समर्पित की। इस संयंत्र में 500 वॉट की दो इकाइयां हैं। प्रधानमंत्री ने 709 मेटावॉट के सौर ऊर्जा संयंत्र का भी उद्धाटन किया। उन्होंने मदुरै, त्रिचुरापल्ली और तिरुप्पूर में 4,000 आवासीय इकाइयों का लोकार्पण भी किया। प्रधानमंत्री ने लोअर भवानी परियोजना प्रणाली के विस्तार, नवीनीकरण और आधुनिकीकरण की आधारशिला भी रखी और वीओ चिदंबरनार बंदरगाह पर आठ लेन के कोरामपल्लम पुल और रेल ओवर ब्रिज का उद्घाटन किया। यह देश के प्रमुख बंदरगाहों में से एक है। उन्होंने चिदंबरनार बंदरगाह पर पांच मेगावॉट क्षमता के सौर ऊर्जा संयंत्र पर आधारित ग्रिड का भी शिलान्यास किया। मोदी ने कहा कि सरकार का मानना है कि देश की विकास यात्रा में हर एक व्यक्ति को गरिमापूर्ण जीवन जीने का अवसर मिलना चाहिए। मानवीय गरिमा के लिए सभी के सिर पर एक छत होनी चाहिए। प्रधानमंत्री आवास योजना के जरिए लोगों को आवास मुहैया कराने का अभियान शुरू किया गया है। देश की आर्थिक गतिविधियों में बंदरगाहों के महत्व का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की सागरमाला योजना के तहत बंदरगाहों के विकास का काम जारी है। उन्होंने कहा कि अब तक 575 परियोजना को चिह्नित किया गया है। जिन पर 6 लाख करोड़ की लागत आएगी। ये परियोजनाएं वर्ष 2015 से 2035 तक पूरी करने का लक्ष्य है। मोदी ने कहा कि तमिलनाडु में समुद्री व्यापार और बंदरगाह आधारित विकास का शानदार इतिहास रहा है। इस सिलसिले में उन्होंने राज्य के उद्यमी बीओ चिदंबरनार के योगदान की सराहना की। प्रधानमंत्री ने कहा कि योजना के तहत बंदरगाहों का आधुनिकीकरण किया जाएगा और नए बंदरगाहों का विकास होगा। इससे देश के विभिन्न बंदरगाहों के बीच संपर्क सुविधाएं बढ़ेंगी और बंदरगाह आधारित औद्योगीकरण को बढ़ावा मिलेगा। तटीय इलाकों में रहने वाले लोगों को इन परियोजनाओं से बहुत लाभ होगा। कोयंबटूर के कार्यक्रम में तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित केंद्रीय कोयला मंत्री प्रल्हाद जोशी, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई के पलानीस्वामी, उपमुख्यमंत्री ओ. पनीरसेलवम और राज्य सरकार के कई वरिष्ठ मंत्री और नेता भी इस समारोह में उपस्थित थे। हिन्दुस्थान समाचार/अजीत