Father-in-law is not responsible for the punishment of son-in-law: Jayant Patil
Father-in-law is not responsible for the punishment of son-in-law: Jayant Patil
देश

दामाद की गलती की सजा के लिए ससुर जिम्मेदार नहीं : जयंत पाटील

news

मुंबई, 14 जनवरी (हि.स.)। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं महाराष्ट्र सरकार के कैबिनेट मंत्री जयंत पाटील ने कहा कि दामाद की गलती के लिए ससुर को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता। अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री नवाब मलिक के दामाद समीर खान पर नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) केंद्र सरकार के इशारे पर कार्रवाई कर रही है। यह सब राजनीतिक कार्रवाई है। इसका सत्तारूढ़ महाविकास आघाड़ी की सेहत पर फर्क नहीं पड़ेगा। जयंत पाटील ने गुरुवार को पत्रकारों से कहा कि केंद्र सरकार अपने विरोधियों को खत्म करने का हरसंभव प्रयास कर रही है। नवाब मलिक के दामाद पर की जा रही कार्रवाई इसी का हिस्सा है। इस मामले में बहुत जल्द सब साफ हो जाने वाला है। जयंत पाटील ने कहा कि सामाजिक कार्य मंत्री धनंजय मुंडे पर जो आरोप लगे हैं, इस बारे में मुंडे ने हाईकोर्ट में आवेदन दिया है। राजनीति में कोई भी नेता बहुत मेहनत कर शिखर तक पहुंचता है। इसलिए धनंजय मुंडे पर लगे आरोपों की पूरी जांच के बाद ही कार्रवाई का विचार किया जाएगा। आरोप लगते ही मंत्रियों का इस्तीफा मांगा जाना उचित नहीं है। दामाद की गिरफ्तारी के बाद अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री नवाब मलिक ने कहा कि कानून से ऊपर कोई नहीं है। उन्हें कानून पर पूरा विश्वास है और उनके दामाद को भी कानून न्याय देगा। उल्लेखनीय है कि धनंजय मुंडे पर दुष्कर्म का आरोप लगने और नवाब मलिक के दामाद की मादक पदार्थ मामले में गिरफ्तारी के बाद भाजपा ने इन दोनों मंत्रियों का इस्तीफा मांगा है। जयंत पाटील ने कहा कि इन दोनों मंत्रियों के इस्तीफे का फिलहाल कोई औचित्य नहीं है। हिन्दुस्थान समाचार / राजबहादुर-hindusthansamachar.in