डोबरा-चांठी सस्पेंशन पुल का उद्घाटन सितंबर में संभव, प्रधानमंत्री के पहुंचने की संभावना

डोबरा-चांठी सस्पेंशन पुल का उद्घाटन सितंबर में संभव, प्रधानमंत्री के पहुंचने की संभावना
डोबरा-चांठी सस्पेंशन पुल का उद्घाटन सितंबर में संभव, प्रधानमंत्री के पहुंचने की संभावना

नई टिहरी, 25 जुलाई (हि.स.)। टिहरी झील पर बन रहा देश का सबसे लंबा सस्पेंशन पुल लगभग बनकर तैयार हो चुका है। डोबरा-चांठी सस्पेंशन पुल का उद्घाटन सितंबर में हो सकता है। लोकार्पण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पहुंचने की उम्मीद है। लोक निर्माण विभाग के सचिव आरके सुधांशु शनिवार दोपहर यहां पहुंचे और डोबरा-चांठी सस्पेंशन पुल का निरीक्षण किया। टिहरी बांध प्रभावित प्रतापनगर और उत्तरकाशी के गाजणा क्षेत्र की बड़ी आबादी को जोड़ने वाले डोबरा-चांठी पुल की कुल लंबाई 725 मीटर है। इसमें सस्पेंशन पुल 440 मीटर लंबा है। इसमें 260 मीटर आरसीसी डोबरा साइड और 25 मीटर स्टील गार्डर चांठी साइड है। पुल की कुल चौड़ाई सात मीटर है। इसमें मोटर मार्ग की चौड़ाई साढ़े पांच मीटर और फुटपाथ की चौड़ाई 0.75 मीटर है। लोक निर्माण विभाग के सचिव आरके सुधांशु ने विभाग के अभियंताओं के साथ पुल का अवलोकन किया। उन्होंने कहा कि कोरोना की वजह से पुल निर्माण में कुछ देरी हुई है। काम पूरा हो चुका है। काम संतोषजनक हुआ है। अब सुरक्षा आडिट बाकी है। इसके बाद पुल को जनता को समर्पित कर दिया जाएगा। कुछ अधिकारियों का कहना है कि सितंबर में पुल के लोकार्पण की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। प्रधानमंत्री मोदी के हाथों लोकार्पण कराने की बात कही जा रही है। इसके मद्देनजर ही सचिव ने यहां का निरीक्षण किया। उधर, स्थानीय लोग पुल के तैयार होने पर खुश हैं।पुल के शुरू होने से प्रतापनगर क्षेत्र के तीन लाख से अधिक लोगों को राहत मिलेगी। जिला मुख्यालय से संपर्क आसान हो जाएगा। उल्लेखनीय है कि कुछ दिन पहले प्रताप नगर क्षेत्र के सामाजिक कार्यकर्ता पंकज व्यास ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मुलाकात कर डोबरा चांठी पुल का काम जल्द पूरा कराने के साथ इस पुल को जोड़ने वाली लिंक रोड्स का काम जल्द पूरा कराने की मांग की थी। हिन्दुस्थान समाचार/प्रदीप डबराल/मुकुंद-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.