तमिलनाडु में द्रमुक, सहयोगी दलों ने ग्रामीण स्थानीय निकाय चुनावों में बाजी मारी

 तमिलनाडु में द्रमुक, सहयोगी दलों ने ग्रामीण स्थानीय निकाय चुनावों में बाजी मारी
dmk-allies-win-rural-local-body-elections-in-tamil-nadu

चेन्नई, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। सत्तारूढ़ द्रमुक ने तमिलनाडु में पार्टी और उसके सहयोगियों के साथ 6 अक्टूबर और 9 अक्टूबर को राज्य के नौ जिलों में हुए ग्रामीण स्थानीय निकाय चुनावों में जीत हासिल की है। हालांकि, राज्य चुनाव आयोग द्वारा अंतिम परिणामों की घोषणा की जानी बाकी है, लगभग सभी जिला पंचायत संघों और वार्ड पंचायत संघों में, डीएमके गठबंधन प्रतिद्वंद्वी एआईएडीएमके और उसके सहयोगियों से बहुत आगे है। सत्तारूढ़ संयोजन अन्य जिलों के 27 वाडरें में भी आगे चल रहे है, जहां उपचुनाव हुए थे। यह एक प्रवृत्ति को दशार्ता है कि पार्टी ने राज्य में अपनी उपस्थिति को 2021 के विधानसभा चुनावों में दर्ज की गई प्रचंड जीत के बाद मजबूत किया है। तमिलनाडु राज्य चुनाव आयोग ने घोषणा की है कि 140 जिला पंचायत सीटों में से, डीएमके मंगलवार देर रात तक 88 सीटों पर जीती या आगे रही, और उसकी गठबंधन सहयोगी कांग्रेस 4 सीटों पर आगे चल रही है। प्रतिद्वंद्वी अन्नाद्रमुक 140 सीटों में से केवल 4 सीटों पर आगे चल रही है और यह एक स्पष्ट संकेतक है कि हवा किस दिशा में बह रही है। द्रमुक उन नौ जिलों के कुल 1,381 वाडरें में से 300 पंचायत संघ वाडरें में जीती है। विपक्षी अन्नाद्रमुक 1,381 पंचायत यूनियन वाडरें में से 50 सीटों पर आगे चल रही है, और उसके सहयोगी दल ने केवल 1 सीट जीती है। पीएमके जो 2021 के विधानसभा चुनावों में एआईएडीएमके की गठबंधन सहयोगी थी और ग्रामीण स्थानीय निकाय चुनाव में अकेले लड़ी थी, वह 13 सीटों पर आगे चल रही है। एमडीएमके और वीसीके, डीएमके सहयोगी क्रमश: 8 और 3 वाडरें में आगे चल रहे हैं। --आईएएनएस एमएसबी/आरजेएस

अन्य खबरें

No stories found.