Detective arrested for providing strategic information to Pak intelligence agency
Detective arrested for providing strategic information to Pak intelligence agency
देश

पाक खुफिया एजेंसी को सामरिक जानकारी उपलब्ध कराने वाला जासूस गिरफ्तार

news

जयपुर, 10 जनवरी (हि.स.) । पाकिस्तानी हैंडलिंग एजेंसी को भारतीय सेना से सम्बधित गोपनीय सूचना भेजने में लिप्त संदिग्ध एक जासूस को जैसलमेर जिले से सीआईडी ने गिरफ्तार किया है। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (इन्टेलीजेन्स) उमेश मिश्रा ने बताया कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी द्वारा छदम नाम से संचालिक सोशल मीडिया अकांउट पर एक युवती से चैट के माध्यम सम्पर्क में रहते हुए भारतीय सेना से सम्बंधित सामरिक महत्व की सूचना भेजने में लिप्त संदिग्ध सत्यनारायण पालीवाल (42) निवासी लाठी जिला जैसलमेर को जासूसी गतिविधियों में लिप्त पाए जाने पर क्राइम इन्वेस्टीगेशन डिपार्टमेंट(सीआईडी विशेष शाखा) जयपुर के स्पेशल पुलिस स्टेशन पर शासकीय गुप्त बात अधिनियम 1923 के तहत मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किया है। खुफिया एजेंसियों ने संदेह के घेरे में आए सत्यनारायण को तीन दिन पहले पोकरण फायरिंग रेंज के नजदीक से पकड़ा था। इसके बाद दो दिन तक चली पूछताछ के बाद जासूसी के आरोप सही पाए जाने पर उसे गिरफ्तार किया। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार इंटेलीजेंस की सूचनाओं में सामने आया कि जैसलमेर में रहने वाला सत्यनारायण पालीवाल पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई द्वारा फर्जी नाम से संचालित सोशल मीडिया अकाउंट से जुड़ा हुआ था। जिसमें सत्यनारायण पोकरण फायरिंग रेंज और आसपास भारतीय सेना की सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण सूचनाओं को भेज रहा था। पिछले करीब एक महीने से इंटेलीजेंस टीम सत्यनारायण पर नजर रखे हुए थी। आखिरकार उसे तीन दिन पहले पकड़कर जयपुर लाया गया। यहां सेंट्रल व लोकल खुफिया एजेंसियों ने संदिग्ध सत्यनारायण से गहराई से पूछताछ की। आरोपित सत्यनारायण के परिवार में महिला सरपंच है। वह खुद भी गांव में नेता बनकर रहता है। ऐसे में आईएसआई की महिला एजेंट ने उसे कुछ साल पहले संपर्क में लिया। खुद को भारतीय होना बताकर महिला एजेंट कई दिनों तक चैटिंग करती रही। इसके बाद आईएसआई की महिला एजेंट ने हनी ट्रेप में फंसाने के लिए सत्यनारायण को वीडियो कॉल करना शुरु कर दिया। वह उसे निर्वस्त्र होकर चेटिंग करने लगी और उसे अपने जाल में फंसा लिया। इसके बाद महिला ने सत्यनारायण को विश्वास में लेकर उससे जैसलमेर में सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण जानकारियां जुटाना हासिल कर दिया। बताया जा रहा है कि इंट्रोगेशन कर रही पुलिस टीम ने सत्यनारायण के मोबाइल फोन को जब्त कर जांच की। जिसमें आईएसआई महिला एजेंट की न्यूड फोटो मिली है, जो कि उसने स्क्रीन शॉट लेकर सुरक्षित रखी हुई थी। हिन्दुस्थान समाचार/दिनेश / ईश्वर-hindusthansamachar.in