कोरोना से रेलकर्मियों की मौत पर आश्रित को अनुकम्पा नियुक्ति और मुआवजे की मांग

कोरोना से रेलकर्मियों की मौत पर आश्रित को अनुकम्पा नियुक्ति और मुआवजे की मांग
demand-for-compassionate-appointment-and-compensation-to-the-dependent-on-the-death-of-railwaymen-from-corona

नई दिल्ली, 15 मई (हि.स.)। नेशनल फेडरेशन ऑफ इंडियन रेलवेमेन (एनएफआईआर) ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और रेल मंत्री पीयूष गोयल से कोविड-19 महामारी से रेलकर्मियों की मौत पर आश्रित को अनुकम्पा नियुक्ति और मुआवजा राशि दिये जाने की मांग की है। एनएफआईआर के महामंत्री डॉ. एम. राघवैय्या ने कोरोना से हुई मौतों पर रेलकर्मियों के परिवार को भी दुर्घटना राशि उपलब्घ कराने की मांग को लेकर प्रधानमंत्री को एक पत्र लिखा है। वहीं रेलमंत्री पीयूष गोयल से मुलाकात कर यह मांग की है कि जिस प्रकार सरकारी कर्मचारी की ऑन ड्यूटी मौत होने पर नियमानुसार उसके परिवार को 25 लाख रुपये दिए जाते हैं। कोरोना काल में भी कर्मचारी डयूटी पर संक्रमित हो रहे हैं, जिसके कारण कई कर्मचारियों की मौत हो चुकी है। उसी प्रकार कोविड से हुई रेल कर्मचारियों की मौतों पर उनके परिवारों को उक्त राशि दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा है कि कोविड-19 से रेल कर्मचारियों की मौत पर उनके परिजनों को शीघ्र ही अनुकम्पा नियुक्ति प्रदान की जानी चाहिए और उक्त राशि का भुगतान किया जाना चाहिए। उल्लेखनीय है कि देश में कोविड-19 के कारण पिछले साल से अब तक लगभग एक लाख रेलवे कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं जबकि इनमें से 1952 अपनी जान गंवा चुके हैं। रेलवे के अस्पतालों में वर्तमान में लगभग चार हजार से अधिक कोरोना संक्रमित भर्ती हैं। इनमें रेलवे कर्मचारी और उनके आश्रितों के अलावा और अन्य लोग भी शामिल हैं। वहीं काफी संख्या में कोविड-19 संक्रमित घरों में ही क्वारंटीन में हैं। हिन्दुस्थान समाचार/सुशील