सीबीएसई 10वीं की परीक्षा रद्द किए जाने का फैसला स्वागत योग्य : प्रियंका

सीबीएसई 10वीं की परीक्षा रद्द किए जाने का फैसला स्वागत योग्य : प्रियंका
decision-to-cancel-cbse-10th-exam-is-welcome-priyanka

-कहा, 12वीं के छात्रों को भी जल्द मिले राहत नई दिल्ली, 14 अप्रैल (हि.स.)। देशभर में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच केंद्र सरकार द्वारा केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की दसवीं की परीक्षा रद्द किए जाने तथा 12वीं कक्षा की परीक्षा स्थगित होने के फैसले की हर ओर तारीफ हो रही है। इस क्रम में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी छात्रों की सुरक्षा को महत्व देते हुए परीक्षा रद्द किए जाने के केंद्र के निर्णय का स्वागत किया है। हालांकि उन्होंने 12वीं के छात्रों को भी जल्द राहत दिए जाने की बात कही है। प्रियंका गांधी ने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि ‘खुशी है कि सरकार ने आखिरकार 10वीं कक्षा की परीक्षा रद्द कर दी है, लेकिन 12वीं कक्षा के लिए भी अंतिम निर्णय लिया जाना चाहिए। जून तक छात्रों को अनुचित दबाव में रखने का कोई मतलब नहीं है। यह उचित नहीं है।’ उन्होंने कहा कि 10वीं के छात्रों की तरह 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों को भी प्रमोट करने पर केंद्र सरकार जल्द फैसला ले। इससे पहले, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में शिक्षा मंत्रियों की बैठक हुई। बैठक में प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना के बढ़ते तेज संक्रमण के कारण परीक्षाओं को टालना जरूरी है क्योंकि छात्र तनाव में हैं और उनको राहत देना आवश्यक है। उन्होंने शिक्षा मंत्रियों से अपील की कि वे इस मुश्किल वक्त में बच्चों की मदद करें। इसके बाद केंद्रीय शिक्षामंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने सीबीएसई की 10वीं कक्षा की परीक्षा रद्द किए जाने तथा 12वीं की परीक्षा फिलहाल टाले जाने की घोषणा की। शिक्षा मंत्री निशंक ने कहा कि 10वीं कक्षा के छात्रों को आतंरिक मूल्यांकन के आधार पर अगली कक्षा में भेजा जाएगा। यह मूल्यांकन सीबीएसई मापदंड के आधार पर किया जाएगा। अगर कोई छात्र मूल्यांकन से संतुष्ट नहीं होगा तो वो हालात सामान्य होने पर परीक्षा दे सकता है। वहीं, आगामी एक जून की समीक्षा बैठक के बाद 12वीं की परीक्षा को लेकर निर्णय किया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/आकाश