कोरोना का कहर, वैश्विक महामारी से मौत के मामले में तीसरे नंबर पर पहुंचा मेक्सिको
कोरोना का कहर, वैश्विक महामारी से मौत के मामले में तीसरे नंबर पर पहुंचा मेक्सिको
देश

कोरोना का कहर, वैश्विक महामारी से मौत के मामले में तीसरे नंबर पर पहुंचा मेक्सिको

news

पेरिस: कोविड-19 से विश्व भर में होने वाली मौतों के मामले में अमेरिका और ब्राजील के बाद मेक्सिको तीसरे नंबर पर आ गया है वहीं पूर्व में सफलता हासिल कर चुका वियतनाम अपने सबसे लोकप्रिय तटीय रिजॉर्ट में प्रकोप को फैलने से रोक पाने में संघर्ष करता दिख रहा है। चीन ने संक्रमण के नये मामलों में 50 फीसदी कमी बताई है जो इस बात का संकेत है कि उसके उत्तरपश्चिम क्षेत्र शिनजियांग में प्रकोप की नयी लहर अब थम चुकी है। हालांकि, हांगकांग में संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं और शनिवार को यहां 100 से अधिक नये मामले सामने आए। अधिकारियों ने रेस्तरां में बैठकर खाने पर प्रतिबंधों को फिर से लागू कर दिया है और मास्क लगाने को जरूरी बना दिया है। दक्षिण कोरियाई अभियोजकों ने देश में कोरोना वायरस संक्रमण के सिलसिले में एक गोपनीय धार्मिक पंथ के बुजुर्ग नेता को गिरफ्तार किया है। देश में कोविड-19 के 14,336 में से 5,200 से अधिक मामले इस पंथ से जुड़े लोगों में पाए गए। उन्होंने सदस्यों को छिपाने और पृथक-वास में भेजे जाने से बचने के लिए कम मामलों की जानकारी देने के आरोपों से इनकार किया है। मेक्सिको के स्वास्थ्य अधिकारियों ने शुक्रवार को 688 और लोगों की मौत की जानकारी दी जिसके बाद देश में इस घातक बीमारी से मरने वालों की संख्या 46,688 हो गई है। जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के आंकड़ों के मुताबिक मेक्सिको अब मृतक संख्या के लिहाज से ब्रिटेन से आगे निकल गया है, जहां मरने वालों की संख्या 46,119 है। वहीं, वियतनाम में अधिकारियों ने शनिवार को कहा कि तीसरे व्यक्ति की कोरोना वायरस से मौत हुई। इससे एक दिन पहले वहां कोविड-19 से पहली मौत हुई थी। वियतनाम में 99 दिनों तक कोई स्थानीय मामला सामने नहीं आने के बाद वह फिर से आए प्रकोप से जूझ रहा है। तीनों मरीजों की मौत दा नांग के एक अस्पताल में हुई जहां पिछले हफ्ते 100 से अधिक मामले सामने आए थे। इसके अलावा इसी अस्पताल से जुड़े 12 और मामलों की शनिवार को पुष्टि हुई। देश के नागर विमानन मंत्रालय ने अंतरराष्ट्रीय विमान सेवा फिर से शरू किए जाने के फैसले को 31 अगस्त तक के लिए टाल दिया है। लेकिन वह अमेरिका, यूरोप और पश्चिम एशिया की अंतरराष्ट्रीय विमान कंपनियों की विशेष उड़ानों को अनुमति देगा जिनका परिचालन फंसे हुए नागरिकों को निकालने के लिए किया जा रहा है। वैश्विक महामारी ने इस साल की मक्का की मुस्लिम तीर्थयात्रा के लगभग हर पहलु को प्रभावित किया है। सऊदी अरब में पहले से रह रहे 1,000 हाजी इसमें हिस्सा ले रहे हैं जो पिछले साल के 25 लाख से बहुत कम हैं। वैश्विक महामारी के कारण आई गरीबी ने कई लोगों के लिए चार दिन के ईद-उल-अजहा त्योहार में शामिल होना मुश्किल बना दिया है। सऊदी अरब के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इस साल के तीर्थयात्रियों में कोविड-19 का कोई मामला नहीं है। वहीं अमेरिका में चक्रवात इसाइस के जल्द टकराने की आशंका के बीच कुछ बाहरी परीक्षण स्थलों को बंद करना पड़ा है, जबकि फ्लोरिडा में मरने वालों की संख्या दिनोंदिन बढ़ती जा रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रमुख ने शुक्रवार को अनुमान जताया था कि वैश्विक महामारी के प्रभाव “आने वाले कई दशकों’ तक महसूस किए जाएंगे।-newsindialive.in