congress-called-39modi-tax39-on-extra-excise-duty-applicable-on-petrol-and-diesel
congress-called-39modi-tax39-on-extra-excise-duty-applicable-on-petrol-and-diesel
देश

पेट्रोल-डीजल पर लागू अतिरिक्त एक्साइज ड्यूटी को कांग्रेस ने बताया ‘मोदी टैक्स’

news

- लोगों को राहत देने के लिए सरकार से अतिरिक्त चार्ज हटाने की मांग नई दिल्ली, 16 फरवरी (हि.स.)। पेट्रोल और डीजल के दाम में लगातार हो रही बढ़ोतरी को लेकर कांग्रेस पार्टी ने एक बार फिर केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोला है। कांग्रेस का कहना है कि मूल्य वृद्धि की मुख्य वजह सरकार द्वारा लगाई गई अतिरिक्त एक्साइज ड्यूटी है, जो असल में ‘मोदी टैक्स’ है। कांग्रेस ने मांग की है कि केंद्र अपने टैक्स को वापस ले, जिससे लोगों को राहत मिलेगी। कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने मंगलवार को पत्रकार वार्ता में पेट्रोल-डीजल के मूल्य में लगातार हो रही वृद्धि को केंद्र की साजिश करार दिया। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट के बावजूद पेट्रोल व डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं। इसी से महंगाई बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि देशवासियों के भले की कोरी बात करने वाली मोदी सरकार लगातार एक्साइज ड्यूटी और सेस वगैरह बढ़ाकर लोगों को लूटने में लगी है। उन्होंने यह भी कहा कि लोगों को ध्यान इन बढ़े टैक्स पर से हटाने के लिए नित नये मुद्दे उछाले जा रहे हैं। पवन खेड़ा ने कहा कि पिछले 6 साल में जब से मोदी सरकार सत्ता में आई है पेट्रोल-डीजल के भाव आसमान पर हैं। उन्होंने कहा कि डीजल की लागत सिर्फ 33.46 रुपये प्रति लीटर और पेट्रोल की लागत सिर्फ 31.82 रुपये प्रति लीटर है लेकिन सरकार द्वारा इन पर लगाए गए अतिरिक्त एक्साइज ड्यूटी की वजह से देशवासियों को पेट्रोल-डीजल क्रमश: 86.29 रुपये और 79.35 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है। डीजल पर मोदी टैक्स 46.24 रुपये लीटर और पेट्रोल पर मोदी टैक्स 58.24 प्रति लीटर है। उन्होंने कहा कि ये अतिरिक्त एक्साइज ड्यूटी नहीं बल्कि मोदी टैक्स है, जो सरकार जनता से वसूल रही है। कांग्रेस नेता ने कहा कि पिछले 6 साल और 8 महीने में केंद्र की मोदी सरकार ने डीजल पर 820 प्रतिशत तथा पेट्रोल पर 258 प्रतिशत का एडिशनल एक्साइज यानी 'मोदी टैक्स' लगाया है। डीजल पर 'मोदी टैक्स' 46.24 रुपये लीटर और पेट्रोल पर 58.24 प्रति लीटर लग रहा है। इससे सरकार ने तो 20 करोड़ से ज्यादा का लाभ कमाया लेकिन आम जनता की परेशानियां लगातार बढ़ती रहीं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी की मांग है कि पिछले छह साल में जो एक्साइज ड्यूटी सरकार ने बढ़ाई है, उसे वापस लिया जाए। देशवासियों को ये राहत मिलनी ही चाहिए। उन्होंने बताया कि बिना 'मोदी टैक्स' के लोगों को पेट्रोल 61.92 रुपये और डीजल 57.51 रुपये में मिल सकेगा। हिन्दुस्थान समाचार/आकाश-hindusthansamachar.in