clean-delhi-better-revenue-system-will-be-aap39s-priority-in-mcd-elections
clean-delhi-better-revenue-system-will-be-aap39s-priority-in-mcd-elections
देश

स्वच्छ दिल्ली, बेहतर राजस्व व्यवस्था एमसीडी चुनाव में आप की प्राथमिकता होगी

news

नई दिल्ली, 8 अक्टूबर (आईएएनएस)। दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) के आगामी चुनावों में सत्ता में आने पर साफ-सफाई, सौंदर्यीकरण और बेहतर राजस्व व्यवस्था आम आदमी पार्टी (आप) की सर्वोच्च प्राथमिकता होगी। ग्रेटर कैलाश से आप विधायक सौरभ भारद्वाज ने आईएएनएस को बताया कि आप का दिल्ली से मुख्य वादा इसे एक स्वच्छ और सुंदर शहर में बदलना है। हम मौजूदा जटिल संपत्ति कर प्रणाली को भी सरल बनाएंगे। इसके अलावा, हम बाहरी विज्ञापनों और टोल टैक्स पर काम करके शहर के राजस्व तंत्र को फिट बनाएंगे। एमसीडी चुनाव अप्रैल 2022 में होने हैं। साल 2007 से, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) तीन क्षेत्रों में विभाजित नागरिक निकाय पर शासन कर रही है, उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी), दक्षिण दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) और पूर्वी दिल्ली नगर निगम (ईडीएमसी)। कचरा और डेंगू के बढ़ते मामलों के संबंध में दिल्ली उच्च न्यायालय के हालिया आदेश पर भारद्वाज ने कहा कि दिल्ली उच्च न्यायालय की पीठ पिछले दो-तीन दिनों से इसी विषय पर एमसीडी से पूछताछ कर रही है। पीठ ने शहर में कचरे के ढेर का नोटिस लिया है। जाहिर है कि ऐसी परिस्थितियों में डेंगू के मामले बढ़ेंगे। एमसीडी स्वच्छता के मोर्चे पर भी विफल रही है, और चूंकि यह दिल्ली सरकार के प्रति जवाबदेह नहीं है, केवल उच्च न्यायालय ही यहां सख्ती सुनिश्चित कर सकता है। वर्तमान स्थिति को एक निराशाजनक स्थिति कहते हुए, दिल्ली उच्च न्यायालय ने बुधवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी नागरिक मोर्चे पर हर दिन छलांग और सीमा से गिर रही है। ऐसा प्रतीत होता है कि नगर निगमों का कर्तव्य केवल अपने कर्मचारियों को वेतन और पेंशन भुगतान करना है। हाई कोर्ट ने कहा कि हर जगह डेंगू, कचरा, सड़कों पर घूम रहे मवेशी, दिल्ली में सड़कों का बुरा हाल है। --आईएएनएस एमएसबी/आरजेएस